अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने झोलाछाप डॉक्टरों पर की ताबड़तोड़ कार्यवाही दो क्लीनिक को किया सील।

सीतापुर-अनूप पाण्डेय/NOI-उत्तरप्रदेश जनपद सीतापुर में बिना डिग्री के इलाज के नाम पर लोगों की जिन्दगी से खिलवाड़ करने वाले झोलाछाप डाक्टर जिला अधिकारी के निशाने पर आ गए हैं। इसी क्रम में अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी व जिला प्रशासनिक अधिकारी ताबा तोड़ कार्यवाही करने लगे है।

आप को बताते चले सीतापुर जनपद के थाना इमलिया सुल्तानपुर अन्तर्गत अवध हॉस्पिटल के नाम से पवन तिवारी व्यक्ति द्वारा बगैर मेडिकल डिग्री व लाइसेन्स के हॉस्पिटल का संचालन किया जा रहा है।जिसे अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ सुरेंद्र शाही तथा प्रशासनिक अधिकारी द्वारा निरीक्षण पर पहुंचने के बाद अवध हॉस्पिटल का पूरा स्टाफ गायब हो गया जिससे वहां पर नोटिस चस्पा कर अपनी कार्रवाई की।
इसी क्रम में काजी कमालपुर में सहारा पाली क्लीनिक तथा रक्षा का दवाखाना के नाम से बिना डिग्री के संचालित क्लीनिक यहीं नहीं मौके पर कई मरीज व इलाज के उपकरण, ग्लूकोज बाॅटल, सीरीन्ज, अल्ट्रासाउन्ड जैली, कैप्सूल ओमेज, मेनीटाल की बोतल, स्टैथोस्कोप, बीपी इन्ट्रूमेन्ट तथा भारी मात्रा में एलोपैथिक दवाईयां मिलीं। जिसके बाद इन दवाखाना को सील कर दिया गया।

वहीं सूत्र बताते हैं कि यह हॉस्पिटल जनसेवा के डॉ जे पी एस तोमर व संजय दीक्षित के द्वारा संचालित कराया जा रहा था वही और भी नर्सिंग होम व जच्चा बच्चा केंद्र इनके द्वारा संचालित किए जा रहे हैं यह सूचना जिला अधिकारी विशाल भारद्वाज को भी दी गई है जिला अधिकारी ने जांच कर कड़ी कार्यवाही करने के आदेश भी दिए हैं अब जल्द ही सीतापुर सिटी के नर्सिंग होम पर भी कार्यवाही की जाएगी और तो और कुछ फर्जी सर्जन बनकर सीजर ऑपरेशन में महिलाओं की बच्चेदानी के ऑपरेशन तक करते हैं जिसके साक्ष्य भी उपलब्ध हो रहे हैं इन साक्ष्यों के आधार पर ही f.i.r. कर इन नर्सिंग होम को सीज किया जाएगा

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 × 5 =