एयरटेल और इंटेल ने भारत में 5जी को तीव्र गति देने के लिये साझेदारी की घोषणा की

लखनऊ, 22 जुलाई, 2021: भारत की प्रमुख संचार समाधान प्रदाता, भारती एयरटेल (‘‘एयरटेल”) ने आज वर्चुअल और ओपेन नेटवर्क एक्सेस (वीआरएएन/ओ-आरएएन) टेक्नोलॉजी के लाभ के माध्यम से अपने 5जी नेटवर्क विकास के लिए इंटेल के साथ साझेदारी की घोषणा की।
यह सहयोग भारत में एयरटेल के उस 5जी रोडमैप का हिस्सा है, जो अपने ग्राहकों को हाइपरकनेक्टेड दुनिया, जहां इंडस्ट्री 4.0 से लेकर क्लाउड गेमिंग और वर्चुअल संवर्धित वास्तविकता एक रोजमर्रा का अनुभव बन चुकी है, का पूरा लाभ उठाने की सुविधा देने के लिए अपने नेटवर्क में बदलाव ला रहा है। एयरटेल भारत का पहला दूरसंचार ऑपरेटर है जो प्रमुख शहरों में 5जी परीक्षण कर रहा है और साथ ही एयरटेल ने लाइव नेटवर्क पर 5जी क्षमता का प्रदर्शन भी किया है।
एयरटेल व्यापक पैमाने पर 5जी, मोबाइल एज कंप्यूटिंग और नेटवर्क स्लाइसिंग को रोल आउट करने के उद्देश्य से एक ठोस आधार तैयार करने के लिए अपने नेटवर्क में इंटेल के नवीनतम थर्ड जेनेरेशन ज़ियोन स्केलेबल प्रोसेसर, एफपीजीएएस और ईएएसआईसीएस और ईथरनेट 800 सीरीज हार्डवेयर को इन्स्टॉल करेगा।
ओ-आरएएन एलायंस के सदस्य के रूप में, एयरटेल और इंटेल मेक इन इंडिया 5जी समाधानों की एक श्रृंखला विकसित करने और स्थानीय भागीदारों के माध्यम से भारत में विश्व स्तरीय दूरसंचार बुनियादी ढांचे को सक्षम करने के लिए मिलकर काम करेंगे। ओपन रेडियो एक्सेस नेटवर्क (ओ-आरएएन) आने वाले वर्षों में अनूठे इनोवेशन और क्रिएटिविटी का क्षेत्र होगा। ये ओ-आरएएन प्लेटफॉर्म इंटेल फ्लेक्सरैन के सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर दोनों के आर्किटेक्चर का लाभ उठाएंगे और सॉफ्टवेयर-आधारित रेडियो बेस स्टेशनों को सक्षम करेंगे जो नेटवर्क एज पर इनस्टॉल किए गए सामान्य-उद्देश्य वाले सर्वर पर ऑपरेट कर सकते हैं।
भारती एयरटेल के सीटीओ श्री रणदीप शेखों ने कहा कि “एयरटेल 5जी के लिए तेजी से विस्तार कर रहे पार्टनर इकोसिस्टम के हिस्से के रूप में इंटेल की साझेदारी से उत्साहित है। इंटेल की अत्याधुनिक तकनीक और अनुभव विश्व स्तरीय 5जी सेवाओं के साथ भारतीय ग्राहकों की सेवा प्रदान करने के एयरटेल के मिशन में काफी योगदान देंगे। हम विश्व-स्तरीय 5जी हब के रूप में भारत की क्षमता को प्रदर्शित करने के लिये इंटेल और घरेलू कंपिनयों के साथ काम करने के लिये भी तत्पर हैं।“
इंटेल कॉरपोरेट वाइस प्रेसिडेंट-नेटवर्क प्लेटफॉर्म्स ग्रुप श्री डैन रोड्रिग्ज ने कहा, “भारत के कनेक्टेड यूजर्स की जीवंत आबादी को डिजिटल रूप से शक्तिशाली बनाने में सक्षम होने के लिए स्केलेबल और चुस्त नेटवर्क की आवश्यकता होती है, जो अपने यूजर्स की बढ़ती मांगों को पूरा करने के लिए विकसित हो सके। एयरटेल अपने अगली पीढ़ी के उन्नत नेटवर्क को इंटेल तकनीक की विस्तृत प्लेटफॉर्म के साथ वितरित कर रहा है, जिसमें इंटेल ज़ियोन स्केलेबल प्रोसेसर और फ्लेक्सआरएएन सॉफ्टवेयर शामिल हैं, ताकि एम्बेडेड इंटेलिजेंस के साथ आरएएन वर्कलोड को अनुकूल बनाया जा सके और उनके बुनियादी ढांचे को बढ़ाया जा सके और एक कनेक्टेड भारत के वादे को पूरा किया जा सके।”
आईएएमएआई व कंतर क्यूब के अनुसार किफायती स्मार्टफोन और विश्व स्तर पर सबसे कम डेटा टैरिफ के नेतृत्व में, भारत में दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी इंटरनेट आबादी है, जो कि 620* मिलियन से अधिक है। देश का सक्रिय इंटरनेट उपयोगकर्ताओं का बेस 2025 तक 900* मिलियन तक बढ़ने की उम्मीद है। 5जी के शुरू होने से औद्योगिक और ग्राहक उपयोग के मामलों की एक श्रृंखला के माध्यम से डिजिटलाइजेशन की प्रक्रिया अधिक मजबूत पकड़ प्रदान करेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five × 2 =