28 C
Lucknow
Monday, July 15, 2024

कितनी भी गायें मरे , इन्हें फर्क नहीं पड़ताः राहुल गांधी

चित्रकूट। राहुल गांधी शुक्रवार को खाट सभा के लिए चित्रकूट के सीतापुर में कर्बी गांव पहुंचे। बुंलेदलखंड के इस इलाके में में राहुल ने केंद्र सरकार को ही निशाने पर लिया। उन्होंने कहा कि अच्छे दिन का नारा दिया गया था, लेकिन अब गडकरी जी कहते हैं कि अच्छे दिन के नारे ने मुसीबत खड़ी कर दी। मुसीबत नहीं खड़ी की, इसने आपको सत्ता दिलाई लेकिन आप वायदे पूरा नहीं करना चाहते। राहुल ने कहा कि इनका लक्ष्य केवल यही है कि गरीब लोग लड़ें और यह सत्ता में रहें। कितनी भी गाय मर जाएं, कितनी भी गाय ट्रक के नीचे आ जाएं, इनको कोई फर्क नहीं पड़ता।

बुंदेलखंड के हालात पर कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि एक दो प्लांट से कुछ नहीं होगा। यहां दूर दृष्टि से विस्तृत प्लान की जरूरत है। हमारी सरकार यूपी में आई तो प्लान बनाएंगे नहीं, करके दिखाएंगे। दिल्ली में शीला सरकार के कार्यकाल के दौरान किए गए कामों पर उन्होंने कहा कि दिल्ली का चेहरा बदल दिया गया। उन्होंने कहा कि यहां जब सूखा था तो हमने हजारों करोड़ दिए थे, लेकिन यहां यूपी की सरकार, एमपी की सरकार के पास सारा पैसा चला गया।

कितनी गायें मर जाएं, इन्हें फर्क नहीं पड़ताः राहुल गांधी

 एक किसान का जिक्र भी राहुल ने अपनी सभा में कहा। उन्होंने कहा कि मुझे वो किसान याद है जिसने मुझे अपना कुआं दिखाया और कहा कि मैंने अपना पैसा यहां डाल दिया लेकिन सरकार का पैसा नहीं आया। वो रो रहा था। बुंदेलखंड में बदलाव आये इसीलिए हमने यहां से यात्रा निकाली।
मनरेगा का उल्लेख करते हुए राहुल ने कहा कि जितना पैसा कांग्रेस मनरेगा में एक साल में डालती थी, उतना भाजपा ने तीन साल में नहीं डाला। उन्होंने केवल बड़े उद्योगपतियों का कर्जा माफ किया है पर छोटे बड़े किसानों का कर्जा माफ नहीं किया है। आपके लिए ये मुश्किल का समय है और आपको लगता है कि भारत की सरकार मुझे निकालेगी पर मोदी जी तो विदेश निकल जाते हैं तो आपकी समस्या क्या हल करेगें?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सीधा हमला बोलते हुए राहुल ने कहा कि पिछले ढाई सालों में मोदी जी ने देश के 10-12 उद्योगपतियों का 1 लाख 10 हजार करोड़ का कर्ज माफ किया जो मनरेगा के तीन साल के बजट बराबर है। अगर मोदी जी किसान की आवाज नहीं सुनना चाहते तो जिस दिन हमारी सरकार आएगी हम करके दिखाएंगे।

बता दें कि राहुल गांधी का रात्रि विश्राम कर्बी में ही है। सुरक्षा के तहत एक डीआईजी, 4 एसपी और 400 से ज्यादा जवान तैनात किये गए हैं। सुरक्षा की कमान छतरपुर के डीआईजी केसी जैन को दी गई है जबकि सहायक प्रभारी सतना एसपी मिथलेश शुक्ला हैं। चित्रकूट पूरी तरह छावनी में तब्दील कर दिया गया।

Latest news

- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें