नानपारा देहाती सिद्दीक मडिया के रास्ते के कारण तमाम परेशानियों का सामना करना पड़ता है
और ककरी गांव जलभराव पिछले कई सालों से भरा हुआ है

अब्दुल नासिर

और अब बारिश की वजह से और भी जलभराव हो रहा है समस्या बढ़ती जा रही है

नानपारा तहसील होने के कारण 50 से 100 गांव के लोगों का आवागमन हर दिन होता है

जिससे मरीज विवाह अनेक चीजों के लिए ग्रामीणों को नानपारा तहसील का मुंह देखना पड़ता है

इन गांव की समस्या किस प्रकार से हल होगी बाकी सभी गांव में बाढ़ का पानी बढ़ता जा रहा है

और ग्रामीण शहर की तरफ बढ़ते आ रहे हैं

और शहर का यह स्थिति बनी हुई है

जैसे कि नानपारा देहाती 1सिद्दीक मड़ैया 2रानीपुर 3बनकटी 4सलीकाबाद6कोरियन बनकटी 7 तमोली फाटा 8परबतिया बोर्ड 9 बिल्हा 10पतरहिया 11 हुलासपुरवा 12ककरहा 13तिलहनपुरवा 14 जुगराजपुर 15 सोलापुर 17 नई बस्ती 18 मंसाराम पुरवा19 खैरी 20खैरा तेलहियांन पुरवा 21सकलपा22 अहिरन पुरवा 23 बल्दी रामपुरवा24बरहुआ25 सोहबतिया 26 मंगल पुरवा 27नेवादा28ईसापुरवा29 दुगव30चमरानपूर्वा31आसरफा 32 तकिया 33गुरुवा 34सरैया 35मनीराम पुरवा 36औसरीपूर्वा 37दौलतपुर 38बगर 39राजापुर 40दुर्जनपुर पुरवा 41कलंदरपुर 42बनियापुर 43मंगल पुरवा 44रामपुर 45लखिया 46भगाई दास पुरवा 47उल्हास पुरवा 48बलसिंहपुर 49नारायणा पुरवा 50कोरणी 51रामपुर 52धोबिया
इस जगह जलभराव के कारण सभी गांव के लोग आक्रोशित हैं

इनके गांव के मरीज कतरी नानपारा देहाती सिद्धीक मडईया पार करने में ही और मरीज बन हो जाता है इस रास्ते के कारण अनेक बार ग्रामीणों के हाथ पैर टूट चुके हैं गड्ढा मुक्त उत्तर प्रदेश के नारे लगाए जाते

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

two + eleven =