पहला आश्रम के संरक्षक अनिल कुमार मिश्र ने गुरू पूर्णिमा पर लिया अपने गुरू का आशीर्वाद ।


सीतापुर -अनूप पाण्डेय,राहुल मिश्रा/NOI-उत्तरप्रदेश जनपद सीतापुर के मिश्रीख क्षेत्र में गुरुर ब्रम्हा गुरुर विष्णू गुरुर देवे महेश्वरा गुरू साक्षात पारब्रम्ह तस्मै श्री गुरुवे नमः । शिष्य और गुरू की परम्परा आदि काल से चली आ रही है । आज देश भर में गुरु पूर्णिमा का पावन पर्व बड़ी धूम धाम से मनाया जा रहा है । गुरु पूर्णिमा को आषाढ़ी पूर्णिमा के नाम से भी जाना जाता है । क्योंकि यह आषाढ़ मास की पूर्णिमा तिथि को मनाया जाता है । आज के दिन लोग मंदिरों में गुरू बृहस्पति व भगवान विष्णु की आराधना करते हैं। वहीं वेदों का ज्ञान देने वाले पुराणों के रचनाकार महर्षि वेद व्यास जी का जन्म दिन इसी तिथि को हो हुआ था । मानव जाति के कल्याण और ज्ञान के लिए उनके योगदान को देखते हुए उनकी जयंती को गुरु पूर्णिमा के रुप में मनाया जाता है । आज गुरू पूर्णिमा के अवसर पर नैमिष में स्थित पहला आश्रम के संरक्षक अनिल मिश्र ने सपरिवार आश्रम के महंत बाबा भरतदास की विधि विधान से पूजा अर्चना करके फल और दक्षिणा देकर आशीर्वाद प्राप्त किया । पत्रकार ऋषी मिश्रा ने भी आशीर्वाद प्राप्त किया । वहीं ग्राम निहन निवासी स्व.राजेन्द्र प्रकाश मिश्र के छोटे पुत्र सुदीप मिश्रा जिलाध्यक्ष भारतीय पत्रकार परिषद की पत्नी अंजू मिश्रा व पुत्र आसुतोष मिश्रा अपने कुल गुरू नैमिष स्थित भिठूर आश्रम पहुंच कर जगदाचार्य दिवाकरानंद सरस्वती की विधि विधान पूजा अर्चना की और फल फ्रूट , मीठा , दक्षिणा प्रदान करके आशीर्वाद प्राप्त किया ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twelve − 4 =