28 C
Lucknow
Monday, July 22, 2024

पेयजल कार्यो में है अनियमितता इसलिए जिम्मेदार नहीं लगाते नलों में टोटीयाँ


 बहराइच,NOI।  आम आदमी को शुद्ध पेयजल मुहैया कराने के लिए केंद्र व राज्य सरकार एक दूसरे के संयुक्त सहयोग से वाटर सप्लाई योजना संचालित कर रही है। नलों में टोटियां न लगने से पानी सरेराह बह रहा है। संचालन से पहले ही यह हांफने लगी है। इस योजना के असल व्यक्तित्व पर नज़र डालें तो पाइप फटने से पूरा आस पास का क्षेत्र जलमग्न हो जाता है। ऐसा ही एक दृश्य जनपद बहराइच के माध्यमिक विद्यालय पयागपुर में देखने को मिला। माध्यमिक विद्यालय पयागपुर के परिसर में वाटर सप्लाई पाइप में टोटी न होने से विद्यालय परिसर जलमग्न हो गया। वहीं दूसरी ओर जिम्मेदारों की निगाहें इस ओर जाने से कतरा रही है और प्रतिदिन सैकड़ो लीटर पानी यूँ ही बर्बाद होता दिख रहा है। 
 बहराइच जिले में नगर व ब्लॉक क्षेत्रों में वाटर सप्लाई योजना के माध्यम से घरो में स्वच्छ पेयजल आपूर्ति के लिए पाइप लाइन बिछाई गई हैं,नए नल लगाए गए हैं। उसी क्रम में पयागपुर ग्राम पंचायत में एक बड़ी टंकी का निर्माण कराया गया है। जिससे ग्राम पंचायत के पयागपुर,पैतोरा, कल्लुपुरवा,मगरेपुरवा समेत कई मजरों में भूमिगत पाइप लाइन डालकर जल आपूर्ति की शुरूआत की जा चुकी है। पेयजल की इस योजना के तहत घर-घर पानी पहुंचाने के लिए कनेक्शन देने वाले जिम्मेदार योजना पर अमल तो करते दिख रहे है, लेकिन असल अस्तित्त्व पर नजर डाले तो इन जिम्मेदारों द्वारा बिछाई गई पाईप लाइनों से सार्वजनिक स्थानों या सड़क किनारे जो नल लगाये गए है। उनमें टोटी नही लगाई गई है। इससे 24 घंटे पानी की बर्बादी हो रही है। सोमवार सुबह पूर्व माध्यमिक विद्यालय पयागपुर में पाइप लाइन फट गई। इसके चलते विद्यालय परिसर जलमग्न हो गया है। प्रधानाध्यापक बलदेव प्रसाद पांडेय ने बताया कि तीन जल निगम के अधिकारियों को सूचना दी गई थी,लेकिन विभाग का कोई भी अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा। अधिशासी अभियंता आरबी राम ने बताया कि विभाग के कर्मी ईवीएम के कार्यों में लगे हैँ। नलों में टोटियां लगना बाकी है। योजना के तहत घर-घर कनेक्शन दिया जाना है। यदि अभी टोटी लगवा दी जाएगी तो पाइप फटने की संभावना बढ़ जाएगी।

Latest news

- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें