28 C
Lucknow
Monday, July 15, 2024

बेरहमी से पीटा टीचर ने सात साल की बच्ची को

नई दिल्ली, एजेंसी। मासूम बच्चों को प्राइवेट स्कूलों में लेट फीस के लिए अक्सर प्रशासन या टीचरों का बुरा व्यवहार झेलना पड़ता है। कहीं बच्चों को पीटा जाता है तो कहीं उन्हें स्कूल से निकाल दिया जाता है। लेकिन महाराष्ट्र के पुणे से ऐसा मामला सामने आया है, जहां टाइम पर फीस न जमा करने की वजह से एक टीचर ने मासूम बच्ची के बाल काट दिए।

घटना पुणे के ज्ञानोदय विद्या मंदिर स्कूल की है, जहां बार-बार फीस की याद दिलाने वाली टीचर बच्ची से इस कदर नाराज हुई कि उसने ऐसा कदम उठा लिया। मिड डे की खबर के मुताबिक मासूम बच्ची का नाम प्राची गुप्ता है। वह स्कूल में कई सालों से पढ़ रही थी, लेकिन इस बार वो फीस जमा करने में लेट हो गई।

 मां-बाप को सब कुछ बताया डरी सहमी बच्ची ने

बच्ची के पिता अखिलेश गुप्ता ने बताया कि इस शर्मनाक हरकत का शिकार हुई बच्ची जब घर पहुंची तो वह काफी डरी हुई थी। वह न कुछ खा रही थी और न ही किसी से बात कर रही थी। मां-बाप ने जब पूछा तो वह कुछ जवाब भी नहीं दे रही थी। इसके बाद जब उन्होंने बच्ची की स्कूल डायरी को देखा तो उसमें फीस न जमा करने को लेकर एक बड़ा नोट लिखा हुआ था।

बच्ची ने थोड़ी देर बाद अपने साथ हुई पूरी वारदात के बारे में बताया। मां-बाप ने जब सिर में बाल कटे हुए देखे तो वे दंग रह गए। इसके तुरंत बाद एक छोटा सा फोटो स्टूडियो चलाने वाले अखिलेश स्कूल पहुंचे और प्रिंसिपल से शिकायत की।

पिता बोले, जो हुआ वो बेहद शर्मनाक

बताया जा रहा है कि टीचर के खिलाफ एक्शन लिया गया है और पिता अखिलेश ने उसी दौरान बच्ची की फीस जमा कर दी। दरअसल, पिता का काम धीमा होने की वजह से उनके पास पैसे नहीं थे और महज तीन हजार रुपये के लिए प्राची को रोज स्कूल में बाते सुनाई जाती थी।

पिता ने कहा कि उन्हें जरा भी उम्मीद नहीं थी कि प्राची के साथ ऐसा भी हो सकता है। उन्होंने कहा कि मैं अपनी बच्ची के साथ ऐसा कुछ बिलकुल बर्दाश्त नहीं कर सकता।

Latest news

- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें