मामला था मछरेहटा थाना क्षेत्र का कार्यवाही हुई थाना सदना पुलिस टीम पर।

सीतापुर -अनूप पाण्डेय,देवदत्त त्रिपाठी/NOI-उत्तरप्रदेश जनपद सीतापुर में गुरुवार देर शाम शिक्षिका के साथ हुई वारदात में मददगार बनी सन्दना पुलिस को कार्यवाही का सामना करना पड़ा।घटना मछरेहटा थाना क्षेत्र की होने के बाद भी सन्दना पुलिस ने मददगार बनकर पीड़िता की मदद करते हुये मुकदमा दर्ज कर आरोपी को जेल भेजने की कायवाही की जिसके बाद भी कप्तान द्वारा एसओ समेत चार लोग सस्पेंड कर दिया गया।

बताते चले की गुरुवार को संदना थाना क्षेत्र के एक विद्यालय में शिक्षिका शिक्षण कार्य समाप्त करके स्कूल से कोरौना की तरफ जा रही थी,रास्ते मे शिवपूजन लोध पुत्र गजोधर निवासी ग्राम लोधखेरवा थाना मछरेहटा घात लगाये बैठा था।उसने शिक्षिका के साथ छेड़छाड़ की घटना को अंजाम दिया।प्रथम द्रष्टया अगर देखा जाए मामला थाना मछरेहटा का है उस दिन एसओ संदना आरबी सुमन मिश्रिख चौराहे पर शव को रखकर जाम कर दिया गया था वहाँ थे।और शिक्षक संगठन द्वारा मछरेहटा के प्रकरण को इस आशय के साथ संदना लाया गया।कि वह शिक्षिका ब्लॉक गोंदलामऊ की है।अगर देखा जाए तो मामला थाना मछरेहटा का था।संदना थाने के एसओ आरबी सुमन ,एस एस आई विजय शंकर यादव,दीवान सूर्यपाल सिंह,महिला कॉनिस्टेबल राखी को बेवजह ही सस्पेन्ड कर दिया गया।जो क्षेत्र में काफी चर्चा का विषय बना हुआ है।पुलिस द्वारा गम्भीर धाराओं में अभियुक्त के ऊपर मुकदमा दर्ज कर दिया गया था।शिक्षक संगठन ने भी संदना पुलिस की सराहना करते हुए ये कहा था कि हम संदना पुलिस की कार्यवाही से संतुष्ट है।शिक्षक संगठन का रोष केवल शिक्षा विभाग के अधिकारियों का न आना था।

मामले में क्षेत्राधिकारी मिश्रिख एम पी सिंह का कहना है कि मुकदमा सन्दना थाना क्षेत्र में पंजीकृत किया गया है व आरोपी रामसंजीवन लोध निवासी पीड़ियाकोडर थाना मछरेहटा को धारा 323/354 (ख)/506/393 भादवि व 7 CLA ACT के अंन्तर्गत माननीय न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया गया

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

18 − 1 =