28 C
Lucknow
Monday, July 15, 2024

राजन का दर्द , ‘रुकना तो चाहता था लेकिन..’

inflation-views-aligned-with-government-says-raghuram-rajan_240214061243नई दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर रघुराम राजन ने शुक्रवार को कहा कि वो अपने पद पर कुछ समय और रुकना चाहते थे लेकिन अपने सेवाकाल के विस्तार के बारे में सरकार से ‘उचित तरह का समझौता’ नहीं हो सका। राजन का तीन साल का कार्यकाल इसी चार सितंबर को खत्म हो रहा है।

उन्होंने एक निजी टीवी चैनल पर एक इंटरव्यू में कहा कि अधूरे काम को देखते हुए मैं रुकना चाहता था..लेकिन ऐसा हुआ नहीं। बात यहीं खत्म हो गई।’ गौरतलब है कि राजन विभिन्न मुद्दों पर अपने मुखर विचारों के लिए चर्चित रहे। कई मुद्दों पर उनके विचारों को सरकार के विचारों के खिलाफ देखा गया। साक्षात्कार में राजन ने देश में बढ़ती असहिष्णुता पर अपनी विवादास्पद भाषण का बचाव किया। इस बयान से सरकार काफी असहज हो गई थी।

राजन का छलका दर्द ,

भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर रघुराम राजन ने शुक्रवार को कहा कि वो अपने पद पर कुछ समय और रुकना चाहते थे लेकिन अपने सेवाकाल के विस्तार के बारे में सरकार से ‘उचित तरह का समझौता’ नहीं हो सका।

अलग-अलग मौकों पर ‘लीक से परे’ बोलने को लेकर अपनी आलोचनाओं को खारिज करते हुए राजन ने कहा कि कि किसी भी सार्वजनिक व्यक्तित्व या हस्ती का यह ‘वैध कर्तव्य‘ और  ‘नैतिक दायित्व’ बनता है कि वह युवाओं को बताए कि अच्छी नागरिकता क्या होती है।

Latest news

- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें