28 C
Lucknow
Wednesday, July 17, 2024

राहुल का ऐलान-कांग्रेस राज्यों में भूमि विधेयक के खिलाफ लड़ेगी

Rahul
नई दिल्ली,एजेंसी-20 सितम्बर। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आरोप लगाया कि वह किसानों से उनकी जमीन छीनना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी राज्यों में भूमि अधिग्रहण के खिलाफ संघर्ष करेगी।
यहां किसानों की एक रैली में राहुल ने कहा कि जमीन किसानों के लिए मां समान होती है।
उन्होंने कहा कि भूमि अधिग्रहण विधेयक के खिलाफ कांग्रेस का संघर्ष किसानों के भविष्य और उनके सम्मान का संघर्ष है।
उन्होंने एक घटना को याद करते हुए कहा कि एक किसान ने उनसे कहा था कि जिस जमीन पर वह किसानी करते हैं, वह उनके लिए मां जैसी है।
उन्होंने कहा, “उस किसान ने मुझसे कहा था कि मोदी सिर्फ हमारी जमीन ही नहीं छीन रहे हैं, बल्कि वह हमारी मां को हमसे छीन रहे हैं। वह हमसे हमारी मां को छीनकर किसी और को सौंप देना चाहते हैं। कृपया हमारे लिए संघर्ष कीजिए।”
राहुल ने कहा कि मोदी ने कहा है कि वह भूमि अध्यादेश को खत्म हो जाने देंगे। उन्होंने कहा, “लेकिन मैं मोदीजी को जानता हूं। वह जो कहते हैं, उसे करते नहीं हैं।”
राहुल ने कहा कि मोदी ने कहा है कि वह कांग्रेस शासनकाल के भूमि अधिग्रहण विधेयक को खत्म नहीं करेंगे। और, इसी के साथ उन्होंने भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों से कहा है कि वे उस भूमि विधेयक के अनुरूप ही काम करें, जिसे संसद ने पारित नहीं किया है।
राहुल ने का, “संघर्ष (भूमि विधेयक के खिलाफ) अभी खत्म नहीं हुआ है। यह लड़ाई लोकसभा-राज्यसभा की नहीं है। यह विधानसभा की है। कांग्रेस हर राज्य में इसके खिलाफ लड़ेगी।”
राहुल ने कहा कि मोदी सरकार फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य के वादे से मुकर गई है। उन्होंने कहा कि इस साल के शुरू में ओलावृष्टि से जब फसलें तबाह हुईं, तो मोदी सरकार ने किसानों की कोई मदद नहीं की।
राहुल ने कहा, “मैं मोदी से कहना चाहता हूं। किसानों की बात सुनिए, उनके घर जाइए, उनका हाथ थामिए और उनकी मदद कीजिए।”
राजग सरकार तीन बार भूमि अधिग्रहण विधेयक लेकर आई, लेकिन संसद में इसे पारित नहीं करा सकी।
विपक्ष ने इस विधेयक को किसान विरोधी करार देते हुए इसे पारित नहीं होने दिया।
राहुल ने कहा- एक तरफ़ मोदीजी कहते कि हम कांग्रेस पार्टी के Bill को ख़त्म नहीं करेंगे, अब वह अपने राज्यों के CMs से कहते हैं- मैं नहीं कर पाया, अब आप कीजिये।
उन्होंने कहा- रोज़गार की बात आती है, तो आपको मोदीजी के साथ युवा नहीं दिखेंगे, मज़दूर नहीं दिखेंगे, पर बड़े बड़े Experts दिखाई देंगे।
गुजरात के अलंग के बंदरगाह मजदूरों का मुद्दा उठाते हुए राहुल ने कहा कि गुजरात के अलंग में नाव कटती है| काटते समय मज़दूर दब के मर जाते हैं। नाव में Radioactive पदार्थ होते हैं, कुछ उससे बीमार होकर मर जाते हैं। जो बीमार होकर मरते हैं, उनके शरीर में इतना Radioactive पदार्थ होता है कि दाह संस्कार के समय उनका शरीर ठीक से जलता भी नहीं। उन्होंने कहा कि अलंग के मजदूरों की रक्षा के लिए कोई कानून भी नहीं है।
रैली में एकत्रित अपार भीड़ से प्रसन्न कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी ने कहा कि आज इस विशाल जन-समूह को देखकर भाजपा सरकार के पांव तले की धरती खिसक गयी होगी।
पिछले दिनों नरेंद्र मोदी द्वारा कांग्रेस को विकासविरोधी बताए जाने पर सोनिया ने सवाल किया- एक पार्टी जिसने आज़ादी की लड़ाई लड़ी, कुर्बानियां दीं,आधुनिक भारत का निर्माण किया, क्या वह विकास के रास्ते में बाधा हो सकती है?
सोनिया ने ललकार कर कहा – जब भी वे जनता की परेशानियों को नहीं सुनेंगे, तो कांग्रेस पार्टी उनके रास्ते में ज़रूर बाधा बनेगी।

Latest news

- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें