28 C
Lucknow
Wednesday, December 1, 2021

सेफ सोसाइटी और एचसीएल फाउंडेशन ने 300 महिलाओं को बनाया आत्मनिर्भर, घरेलू कामगार महिलाओं का चिकन ब्रांड ‘श्वेत’ की हुई लॉन्चिंग

लखनऊ: गुरुवार को राजधानी के चक गजरिया स्थित एचसीएल सिटी में घरेलू कामगार महिलाओं द्वारा तैयार चिकन ब्रांड ‘श्वेत’ का अनावरण किया गया। ‘मिशन शक्ति’ के तहत सेफ सोसाइटी और एचसीएल फाउंडेशन के तत्वावधान में यह कार्यक्रम रखा गया था। जो ‘आत्मनिर्भर भारत’ की ओर बड़ा कदम है। बता दें कि, महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिये ‘सेफ सोसाइटी’ पिछले 15 सालों से पूरे प्रदेश में कार्य कर रही है। इस मौके पर मुख्य अतिथि के तौर पर प्रदेश सरकार के एमएसएमई व एक्सस्पोर्ट प्रमोशन के स्पेशल सेक्रेटरी आईएएस प्रदीप कुमार मौजूद थे।

300 महिलाओं को मिली ट्रेनिंग

पिछले 2 वर्षों से सेफ सोसाइटी ने एचसीएल फाउंडेशन के सहयोग से जानकीपुरम, नौबस्ता, रायपुर बिटौली, सीतापुर रोड, डालीगंज, खदरा, कल्याणपुर और रहीम नगर के क्षेत्रों में लगभग 300 महिलाओं की सदस्यता के साथ 17 एसएचजी के गठन की सुविधा प्रदान की है। “श्वेत” के औपचारिक शुभारंभ के माध्यम से, सेफ सोसाइटी और एचसीएल फाउंडेशन इन पारंपरिक कारीगरों को वर्तमान रुझानों में आने और क्लासिक मुगल “तहजीब-ए-लखनऊ” चिकन काम के प्रति सम्मान प्रदान करने के लिए बढ़ावा दे रहा है।ल

‘वोकल फ़ॉर लोकल’ की सोच को मिलेगा बढ़ावा

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद विशेष सचिव आईएएस प्रदीप कुमार ने एक आइडिया दिया कि कैसे एमएसएमई एसएचजी पहल को आगे बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है। एमएसएमई व एक्सस्पोर्ट प्रमोशन के विशेष सचिव ने कहा कि यह मान्यता की बात है कि सेफ सोसाइटी और एचसीएल फाउंडेशन ने एसएचजी की महिलाओं को प्रोत्साहित, प्रशिक्षित और सशक्त बनाया है, ताकि वे अपने उत्पादों को मुख्य धारा के बाजार में ला सकें और बड़े खिलाड़ियों के साथ प्रतिस्पर्धा कर सकें। उन्होंने कहा कि यह पहल न केवल सरकार के ‘वोकल फ़ॉर लोकल’ की सोच को बढ़ावा देगी। साथ ही, दूसरों के लिए एक उदाहरण भी प्रस्तुत करेगी।

महिला कल्याण विभाग के उप निदेशक पुनीत मिश्रा ने सेफ सोसाइटी और एचसीएल फाउंडेशन की समाज में सकारात्मक बदलाव लाने के लिए प्रशंसा की। इसके अलावा उन्होंने विभिन्न सरकारी कल्याण योजनाओं के बारे में भी बात की और अपने विभाग की ओर से आवश्यक कार्य करने का आश्वासन दिया।

एचसीएल फाउंडेशन की निदेशक निधि पुंधीर ने कारीगरों को मुख्यधारा में लाने के लिये संगठनों के प्रयासों की सराहना की, ताकि उनका मनोबल गिराया और उनका शोषण न किया जा सके। उन्होंने यह भी कहा कि एचसीएल फाउंडेशन इन महिलाओं को अपना पूरा समर्थन प्रदान करेगा। इससे इनके विकास में किसी तरह की कमी न रह जाए। उन्होंने कहा कि एचसीएल फाउंडेशन द्वारा संचालित ‘माई ई-हाट’ पहल इन उत्पादों की मार्केटिंग का भी काम करेगी।

सेफ सोसाइटी के डायरेक्टर वैभव शर्मा ने बताया कि “सेफ सोसाइटी और एचसीएल फाउंडेशन ने एक प्रोजेक्ट के तहत मिलकर घरेलू कामगार महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने हेतु संकल्प लिया है। जिसमें महिलाओं ने बड़ी संख्या में प्रतिभाग किया और हमारे द्वारा उन्हें ट्रेनिंग दी गयी। ‘श्वेत’ ब्रांड को इन्हीं महिलाओं ने तैयार किया है और अब इसकी मार्केटिंग भी यही महिलाएं करेंगी।”

इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में आईएएस प्रदीप कुमार (स्पेशल सेक्रेटरी, एमएसएमई व एक्सस्पोर्ट प्रमोशन, उत्तर प्रदेश सरकार) मौजूद रहे। साथ ही, निधि पुंधीर (डायरेक्टर, एचसीएल फाउंडेशन), ऋषि कुमार (वीपी, एचसीएल टेक्नोलॉजी), पुनीत मिश्रा (डिप्टी डायरेक्टर, महिला कल्याण विभाग, उत्तर प्रदेश सरकार) और कीर्ति करमचंदानी (हेड गवर्नमेंट रिलेशन, एचसीएल फाउंडेशन) भी उपस्थित रही। कार्यक्रम का संचालन विभा मिश्रा और गौरव मजूमदार ने किया।

Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave a Reply