ईद पर बनायें किमामी सिवइंया,खाने वाले हो जायेंगे खुश

पारसमणि अग्रवाल-लखनऊ:NOI।

रमजान आते ही हर चेहरे पर खुशी की अनूभूति खुद को उकेर लेती है और इंतजार होने लगता है ईद का। बच्चे ईदी और नये कपड़ो का इंतजार करते है। बड़े दुआयें करते है। चॉद का दीदार होते ही इंतजार खत्म हो जाता है। माहौल वाकई खुशनुमा होता है और ऐसे में ईद के मौके पर बनी सिवंइया की मनमोहक एवं लाजवाब खुशबू परिवेश में चार चॉद लगाने का कार्य करती है। वैसे तो ईद के लिये सिवंइया का निर्माण घर पर ही होता था लेकिन गतिमान वक्त के साथ ईद के मौकों पर सिवइंयों के बाजार भी गुलजार होने लगे है। इस बार की ईद को और भी ज्यादा स्पेशल तरीके से मनाइये और अपनों को ऐसी सिंवइया खिलाइये कि वह सिवइंया के लाजवाब स्वाद और खुशबू के दीवाने होकर उसे बनाने की रेसिपी पूछे बिना रह पाये। किमामी सिवंइया नवाबों के शहर में बहुत मशहूर है, यह इतनी स्वादिष्ट होती है कि खाने वाला भी खुश हो जाये और आपकी तारीफ किये बिना खुद को रोक न पायें क्योंकि माना भी गया है अपनापन और स्नेह का रास्ता पेट से होकर ही गुजरता है। ईद पर किमामी सिवइंया जरूर बनायें और रिश्तेदारों, अपनों को खुश कर ईद को और भी ज्यादा खुशनुमा बनायें। आपकी खुशी ही हमारी खुशी है आइये आपको भी सिखायें किमामी सिवइंया बनाना।

किमामी सिवइयां बनाने की जरूरत पड़ेगी इस सामग्री की
महीन सेवई – 250 ग्राम, खोया भुना हुआ – 250 ग्राम,काजू बारीक़ कटा हुआ – 4 चम्मच, बादाम बारीक़ कटा हुआ 4 चम्मच, मखाना – 50 ग्राम, चिरौंजी – 3 चम्मच, छुहारा – 50 ग्राम, इलायची पाउडर – 1 चम्मच, ऑरेंज कलर कुछ बून्द, घी – 25 ग्राम, चीनी – 250 ग्रामध्यान रहें कि चीनी और सूखे मेवों की मात्रा को अपने स्वाद अनुसार घटा बढ़ा सकती है।

बनाने का तरीका सबसे पहले गैस चूल्हा जलाकर एक पैन को चढ़ाकर घी डालें। घी के गरम होने पर बिलकुल धीमी धीमी आंच में सेवई को गोल्डन फ़्राई कर लें।जब सेवई भुन जाएं तब इन्हें एक प्लेट में निकाल लें। छुहारे के बीज निकाल कर इसके पतले स्लाइस कर लें।अब इस पैन में थोड़ा घी डालें और इसमें काजू, बादाम, मखाना, चिरौंजी और छुहारे को डालकर धीमी धीमी आंच पर गोल्डन फ़्राई कर लें। अब किमामी सेवई के लिए एकतार की चाशनी बनायेंगे, चाशनी बनाने के लिये एक बड़े बर्तन में इलायची पाउडर , 250 ग्राम चीनी और 1 1/2 कप पानी को डालकर गरम करने के लिए रख दें, लगभग 10 मिनट बाद इसमें एक चुटकी फिटकरी मिला दें। चाशनी में फिटकरी मिलाने पर आपको कुछ सफ़ेद सा फैना अलग होते हुये दिखेगा उसे कलछी से निकाल दें, ऐसा करने से चाशनी एकदम साफ़ बनेगी। लगभग 10 से 15 मिनट बाद चाशनी को चेक करने के लिए चाशनी की 2 बूंद को दो उँगलियों से चिपकाकर देखें। अगर एक तार की चाशनी बनने लगे तो चाशनी तैयार है। इसमें 2 बूँद ऑरेंज कलर मिला दें। अब इस चाशनी में भुना हुआ खोया, भुनी हुई सेवई और सभी सूखे मेवे को डालकर कलछी से लगातार चलाते रहें। जब यह मिश्रण सूखने लगे तो गैस बन्द कर दें।
अब तीन कटोरी में किमामी सेवई को डालें और थोड़े कटे हुए मेवों से गार्निश कर सर्व करें । किमामी सेवईयां बनाते समय एक तार की चाशनी का ख़ास ध्यान रखें, क्योंकि जब तक चाशनी सही से नहीं बनेगी तब तक सेवईयां उतनी अच्छी नहीं बन पायेंगी जितनी कि यह स्वादिष्ट होती

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.