सीतापुर-अनूप पाण्डेय,रोहित त्रिपाठी/NOI-उत्तरप्रदेश जनपद सीतापुर के
संदना थाना क्षेत्र में हरदोई सीमा से सटे नदी में अज्ञात महिला का शव मंगलवार रात बरामत।देर रात तक हरदोई-सीतापुर दोनों जिले एक दूसरे की सीमा का बताकर एक दूसरे से उलझे रहे।अंत मे संदना पुलिस ने शव को शील कर पोस्टमार्टम के लिए भेज।मौके पर पहुचे ग्रामीणों ने महिला की दुराचार के बाद हत्या कर शव को फेंके जाने की शंका जताई

प्राप्त जानकारी के अनुसार मंगलवार को शाम 9 बजे करीब गोमती नदी के किनारे हरदोई सीमा से सटे गांव ऐमा घाट के पास पर एक अज्ञात युवती का शव गोमती नदी में देखा गया। नदी में शव होने की सूचना ग्रामीणों में आग की तरह फैल गयी।धीरे धीरे ग्रामीणों की भीड़ इक्टठा हो गयी।ग्रामीणों की सूचना पर मौके पर पहुची संदना पुलिस पहले तो सीमा विवाद का हवाला देकर मामले में उलझी रही और सीमा से सटे हरदोई जिले के अतरौली पुलिस को सूचना दी।मौके पर पहुची हरदोई पुलिस ने शव को अपने जिले की सीमा में होने से इंकार किया ।
> दोनों ही थानों की पुलिस में सीमा विवाद काफी देर तक होता रहा।दोनो ही अज्ञात शव को एक दूसरे की सीमा में बताकर इति श्री करने के फिराक में थे।
> लेकिन ऊपर वाले को भी यह सब विवाद मंजूर नही था।गोमती नदी की बहती तेज धारा ने अज्ञात शव को सीतापुर की सीमा में धकेल कर सीमा विवाद को सुलझा दिया।इस दौरान संडीला सीओ नागेश मिश्रा भी मौके पर पहुच गए।मौके पर मौजूद लोगों से पूछताछ भी की गयी जिसके बाद हरदोई पुलिस जांच पड़ताल करके वापस चली गई ।युवती की उम्र लगभग 25 वर्ष के करीब,सलवार सूट व गले मे पीतल की माला पहना था।
> वहीं संदना पुलिस नाव की मदद से कड़ी मसक्कत के बाद शव को बाहर निकालने में सफल हुई।शव को देखकर ग्रामीणों का कहना है कि युवती के साथ दुराचार के बाद हत्या कर शव को गोमती नदी में फेंका गए है।जिसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए सीतापुर भेज दिया गया।समाचार लिखे जाने तक शव की पहचान नही हुई थी।
>
> इस संबंध में जब संदना थानाध्यक्ष धर्मराज उपाध्याय से बात की गई तो बताया अज्ञात शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।अभी शव की शिनाख्त नही हुई है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.