दीपक ठाकुर:NOI।

भाजपा को आगामी लोक सभा चुनाव में सिर्फ विरोधियों से ही खतरा है ऐसा नही है क्योंकि पार्टी में अभी भी कुछ ऐसे चेहरे हैं जो 2019 में भाजपा की तस्वीर बदलने की तमन्ना रखते हैं।आपने सही पहचाना हम बात कर रहे हैं भाजपा के सांसद उर्फ बिहारी बाबू शत्रुघन सिन्हा का जो भाजपा से इतने नाराज़ है कि उन्होंने विरोधियों को गले लगाने का काम कर लिया है।

शत्रुघन सिन्हा शनिवार को कोलकाता में दिखाई दिए वो भी उस मंच पर जहां सिर्फ और सिर्फ भाजपा विरोधी दल ही मौजूद थे यहां सिर्फ शत्रु भैया ही नही बल्कि उनके साथ यशवंत सिन्हा भी मौजूद रहे जो एक वक्त में भाजपा के जाने माने नेता और देश की सत्ता जब अटल जी के हाथ थी तो उसमें महत्वपूर्ण पद भी सम्भाल चुके थे।हालांकि यशवंत सिन्हा की ममता की रैली में उपस्थिति ने जाहिर कर दिया कि उनका भाजपा से मोह भंग हो चुका है लेकिन शत्रुघन सिन्हा की मौजूदगी और उनके बोल बचन ने विरोधियों के हौसलों का बल देने का भी काम किया है।

ममता बनर्जी की रैली में पहुंचे शत्रुघन सिन्हा ने जब माईक सम्भाला तो मोदी सरकार की पानी पी पी कर आलोचना की वही दूसरी तरह कांग्रेस पार्टी की तारीफों के पुल बांधते नज़र आये।उन्होंने भाजपा की हर उस योजना की फजीहत की जिसको गिनाकर भाजपा 2019 जीतना चाह रही है।उन्होंने तो राफेल मुद्दे पर राहुल गाँधी की आवाज़ से आवाज़ मिलाते हुए एक बार अपनी जुबान से कह दिया कि चोकीदार चोर है क्योंकि वो खामोश है।

ऐसा नही है कि शत्रुघन सिन्हा ने पहली बार भाजपा को खरी खोटी सुनाई हो कई बार वो अपनी उपेक्षा का कारण शीर्ष नेतृत्व को मानते हुए ऐसा कर चुके है,लेकिन ऐसे वक्त में विरोधियों के साथ सुर में सुर मिलाना ये साफ संकेत इस बात का है कि भाजपा के शत्रुघन सिन्हा शत्रु से कम नही रहे।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.