सीतापुर-अनूप पाण्डेय,सनोज मिश्रा/NOI-उत्तरप्रदेश जनपद सीतापुर के सिधौली में पिछड़ों के हक़ की पैरोकारी करना व हक़ दिलाना राष्ट्र का नवनिर्माण करना है इसलिए हम सबको मिलकर ऐसा राष्ट्र हितैषी कदम जरूर उठाना चाहिए ।
यह बात द्वितीय पिछड़ा आयोग के अध्यक्ष व विहार प्रान्त के पूर्व मुख्यमन्त्री वीपी मण्डल की पुण्यतिथि पर मिशन महापुरुष मूवमेंट मंच के आवाह्न पर आयोजित श्रद्धाञ्जलि कार्यक्रम में सामाजिक कार्यकर्ता राजेश कश्यप ने तहसील क्षेत्र के अल्लीपुर गॉव में कही । उन्होंने कहा कि वीपी मण्डल का सम्पूर्ण जीवन पिछड़ों के उत्थान हेतु समर्पित रहा इसी के चलते उन्हें द्वितीय पिछड़े वर्ग आयोग का अध्यक्ष बनाया गया । उनका मानना था जब तक देश के पिछड़ों की तरक्की नहीं होगी तब तक देश कतई तरक्की नहीं कर सकता इसलिए हर हालत में पिछड़ों के उत्थान हेतु हर सम्भव प्रयास सरकारी स्तर पर किये जाये । यह उनके मेहनत का ही नतीजा है कि भारत में द्वितीय पिछड़ा आयोग बनाया गया जिसे मण्डल जी के नाम पर मण्डल कमीशन कहा गया । यह कमीशन देश का कायापलट करने में सक्षम है किन्तु जिम्मेदार इसे पूर्ण रूप से लागू नहीं करना चाहते । मण्डल कमीशन की चालीस संस्तुतियां हैं मगर कई दशक गुज़र जाने के बावजूद भी मात्र दो संस्तुतियां ही प्रभावी हो सकी है बाकी सभी संस्तुतियां लागू होने की बाट जोह रही है मगर कोई जिम्मेदार इसका पुरुषाहाल लेने वाला नहीं है यह देश का दुर्भाग्य है । मण्डल कमीशन की संस्तुतियों का आधार सामाजिक , शैक्षिक और आर्थिक रूप से पिछड़े तबकों की तरक्की हेतु समर्पित है । वीपी मण्डल का पूरा नाम विन्देश्वरी प्रसाद मण्डल है जिनका आज ही के दिन सन् उन्नीस सौ बयासी को महापरिनिर्वाण हो गया । आज हम लोग देश के ऐसे मसीहा को नमन करते हैं जो जीवनपर्यन्त देश की सन्तुलित प्रगति हेतु तत्पर रहा । इस मौके पर डीके कश्यप , रामस्वरूप कनौजिया , गीता देबी , सावित्री देबी सहित अन्य मौजूद रहे ।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.