सीतापुर-अनूप पाण्डेय, मोहम्मद समीर/NOI-उत्तर प्रदेश जनपद सीतापुर में बीजेपी सरकार बनते ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा था की प्रदेश को भ्रष्टाचाार से मुक्त कर देंगे मगर सीतापुर जनपद में भ्रष्टाचार चरम सीमा पर व्याप्त है आपको बताते चलें सीतापुर जनपद के ब्लॉक परसेंडी के ग्राम पंचायत भदियासी में जमकर सरकारी धन का बंदरबांट किया गया .इस ग्राम पंचायत में प्रधान मंत्री आवास से लगाकर सौचालय खडन्जा इंटरलाकिंग आदि में जमकर सरकारी धन का दुरपयोग हुआ है।

जब इस संबंध में मीडिया टीम ने पड़ताल किया तो मामला चौका देने सामने आया खडन्जा से लगाकर नाली निर्माण में फर्जी चेके कट गई मगर कार्य कुछ नही हुआ. स्वच्छ भारत मिशन तहत जो भी शौचालय बने है उसमें पीला ईट व प्लास्टर के नाम पर बालू लगा दी गई ग्राम पंचायत में आवास के नाम पर लाभार्थियों से 20. 20 हजार रूपये वसूले गए व खड़ंजा नालियों में भी जमकर भ्रष्टाचार हुआ प्रधानमंत्री आवास योजना का दुरुपयोग किया गया है यह योजना गरीबों को सर पर छत डालने के लिए प्रधानमंत्री ने लागू किए मगर यहां पर प्रधान और सेक्रेटरी को रुपए जिस लाभार्थी ने दिए उसी को आवास आवंटन किया गया जबकि गरीब लाभार्थी जिनके घर टूटे हुए छप्पर के नीचे रह रहे हैं उन्हें आवास नहीं दिया गया ग्रामीणों ने बताया कि प्रधान जी यही कहते हैं देखो कुछ समझो तो तुमको आवास मिल जाएगा मगर गरीब अपनी जेब से ₹20हजार रूपये की कीमत देने के लायक नहीं है तो उन्हें आवास नहीं दिया गया

जब इस संबंध में मुख्य विकास अधिकारी सीतापुर से बात की तो उन्होंने जांच कर कार्यवाही करने का आश्वासन दिया था मगर 15 दिन बीत जाने के बावजूद भी ना कोई जांच हुई नहीं पड़ता हुई खाली खोखले जांच पड़ताल के आदेश दिए जाते हैं अपने ऐसी चेंबर में बैठकर खाली कागजी खानापूर्ति की जा रही है

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.