रिपोर्ट-अनूप पाण्डेय
स्थान-सीतापुर यूपी

Anchor-यूपी जनपद सीतापुर के पुलिस अधीक्षक एलआर कुमार के दिशा निर्देशन में पूर्व में ट्रैक्टर लूट की घटना में आज कोतवाली लहरपुर के द्वारा लूटी गई ट्रैक्टर ट्रॉली सहित चार अभियुक्तों को गिरफ्तार कर बड़ी सफलता हासिल की है।
आपको बताते चलें 31 मार्च 2019 की रात्रि 1 अप्रैल 2019 को लहरपुर कोतवाली क्षेत्र से भदफर रोड से रात्रि में खमरिया शुगर मिल से गन्ना बेच कर लौटते समय बदमाशों ने राजेश पुत्र परशुराम गोस्वामी निवासी सीतापुर थाना लहरपुर से रात्रि 2:00 बजे के समय मोटरसाइकिल सवार बदमाशों ने हथियारों के बल पर जबरन उसका ट्रैक्टर महिंद्रा और मोबाइल फोन नगदी लूट लिया था। जिसका लहरपुर कोतवाली में मुकदमा पंजीकृत किया गया था। घटना का संज्ञान लेते हुए प
पुलिस अधीक्षक द्वारा गठित संयुक्त टीम को उस वक्त बड़ी सफलता मिली मुखबिर की सूचना पर लूटे गए ट्रैक्टर सहित चार बदमाशों को धर दबोचा। पकड़े गए अभियुक्त राजेंद्र सिंह उर्फ ठाकुर निवासी ग्राम सराय थाना हरगांव, अजीत शर्मा निवासी नरहरियापुर थाना इमलिया सुल्तानपुर, बहादुर निवासी टेकन पुरवा सुल्तानपुर हरिप्रसाद, राजकिशोर निवासी ग्राम गौरा थाना रामकोट सीतापुर को ग्राम रमवापुर के पास मोड़ पर मय ट्रैक्टर सहित गिरफ्तार किया। चीन के कब्जे से चार अवैध तमंचा 315 बोर, लूटा गया एक ट्रैक्टर महिंद्रा चोरी की एक ट्राली, चोरी की दो मोटरसाइकिल, घटना में प्रयुक्त एक मोटरसाइकिल, एक मोबाइल घटना में लूटा गया, 8 जिंदा कारतूस 315 बोर की बरामद की गई। कड़ाई से पूछताछ करने पर बताया कि मोटरसाइकिल एडीएम कार्यालय व जिला चिकित्सालय सीतापुर से चोरी करना बताएं जब की ट्राली सराय सराय थाना हरगांव से चोरी करना कबूल किया जिनके संबंध में थाना हरगांव व कोतवाली नगर में अभियोग पंजीकृत हैं। उपरोक्त ट्रैक्टर लूट की घटना को रास्ते में अचानक ही ट्रैक्टर चालक को अकेला पाकर घटना को अंजाम दिया था। ट्रैक्टर चालक खमरिया शुगर मिल से गन्ना जमा करके लौट रहा था। यह लोग शादी से वापस लौट रहे थे या बहुत ही शातिर अपराधी हैं जो लगातार अपराध में संलिप्त रहे हैं। जिनके विरुद्ध मुकदमा पंजीकृत कर जेल भेजने की कार्यवाही की वहीं पांचवा अभियुक्त अतेंद्र निवासी भनवापुर थाना मितौली जनपद लखीमपुर खीरी अभी पुलिस के गिफ्ट से फरार है ।
बाइट-

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.