ऐंकर : धरती के भगवान कहे जाने वाले आजकल के डॉक्टरों पर बिना ज़रूरत जाँच वगैरह कराने के आरोप लगते रहते है, लेकिन आज बहराइच ज़िला अस्पताल में एक ताज़ा मामला प्रकाश में आया है जिसमें एक दम्पति ने डॉक्टरों द्वारा मारे जाने का आरोप लगाया है। पीड़ित मरीज़ का आरोप है कि काफी समय तक बैठाए रहने के बाद भी डॉक्टर ने रैबीज़ का इंजेक्शन नहीं लगाया और जब उसने जल्दी इंजेक्शन के लिए कहा तो डॉक्टर पति-पत्नि को भद्दी-भद्दी बात कहने लगे इसका जब उसने विरोध किया तो उसको और उसकी पत्नि को मारने लगे। दूसरी ओर मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉक्टर डी के सिंह का कहना है कि मरीज़ और डॉक्टर से बहस की बात हमने सुनी तो हमने मरीज़ को इंजेक्शन लगवा दिया उसके बाद मरीज़ जाकर डॉक्टर की पिटाई करने लगा। CMS सहित कई डॉक्टरों पर पीड़ित ने मारने का आरोप लगाया है इसके जवाब में CMS ने कहा यह सब गलत है।

वी ओ : बहरहाल बहराइच ज़िला अस्पताल में आये दिन मरीज़ों और डॉक्टरों में झगड़े होते रहते है, और डॉक्टर अंशुमान का इस मामले में रिकार्ड काफी खराब है उनसे अक्सर मरीजों से झगड़े होते रहते है लेकिन आला रसूक के कारण इनके विरूद्ध कोई कार्यवाही नहीं होती है, इस बार भी पीड़ित अजय कुमार तिवारी ने डॉक्टरों के विरूद्ध नगर कोतवाली में प्रार्थना पत्र दिया है लेकिन पुलिस ने पीड़ित को ही लाकप में बिठा रख्खा है, और उसकी पत्नि अपने पति को छुड़ाने के लिए आला अधिकारियों को फोन कर रही है। पुलिस इस मामले में कैमरे पर कुछ भी बोलने को अभी तैयार नहीं है।

बाइट : डॉ डी के सिंह (मुख्य चिकित्सा अधीक्षक)
बाइट : अजय कुमार तिवारी (पीड़ित)

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.