सीतापुर-अनूप पाण्डेय, सुनील वर्मा/NOI-उत्तरप्रदेश जनपद सीतापुर में बड़े मंगल के उपलक्ष्य में आज सदरपुर क्षेत्र के ग्राम घरथरी कें चौराहे पर विशाल भंडारे का आयोजन किया गया।जिसमे महात्मा त्यागी दास ने लोगो को प्रेम दया व सदभाव के साथ जीवन जीने को कहा उन्होंने लोगो को परोपकार एव धर्म की पराकाष्ठा को समझाते हुए बताया कि सनातन धर्म संसार का सबसे प्राचीन धर्म है और इस उदबोधन की शुरुआत संस्कृत के अत्यंत लोकप्रिय सूक्ति ‘परोपकार्यम सताम बिभूतया,’ से की।उन्होंने बताया कि सज्जनो का जन्म ही परोपकार के लिए हुआ है।मानव जीवन एक अमूल्य ऐश्वर्य प्रसाद है जिसको हमेशा मानव की सेवा में बिताना चाहिए।त्यागी महराज जिन्होंने लोगो को धर्म और अधर्म में अंतर बताते हुए लोगो को धर्म के मार्ग पर चलने के लिए प्रेरित किया। क्षेत्र के लोगो ने इस भंडारे में प्रसाद ग्रहण किया।जिसमे महमूदाबाद भाजपा नेता आशा मौर्या ,मोहनबारी,ने भी अपनी उपस्थिति दर्ज करके इस भंडारे में प्रसाद ग्रहण किया।भंडारे का आयोजन ग्रामीणों के द्वारा किया गया है।जिसमे क्षेत्र के संजय शुक्ल,अमन वर्मा, संजय वर्मा, रमाशंकर वर्मा, राजू वर्मा,गुरनाम सिंह दर्शन, सुनील वर्मा,कमलेश तेवारी, विजय सिंह, सुधीर वर्मा, कैलाश प्रधान, लक्ष्मी गुप्ता,अंग्रेज चौहान आदि लोग मौजूद रहे।इस भंडारे का आयोजन पुलिस कर्मियों की देख रेख में किया गया।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.