*मानव तस्करी व बाल संरक्षण के मुद्दे पर पुलिस अधिकारियों का प्रशिक्षण आयोजित:*

बहराइच :(अब्दुल अजीज)NOI:-“मानव तस्करी और बाल संरक्षण अब सरकार की सर्वोपरि प्राथमिकताओं में है और इन मुद्दों पर गंभीरता से कार्य करने की आवश्यकता है। बहराईच जनपद को बाल हितैषी बनाने के लिए पुलिस को स्वैच्छिक संस्थाओं व संवैधानिक संस्थाओं के साथ मिलकर काम करना होगा।” यह बात बहराईच के पुलिस अधीक्षक डा० गौरव ग्रोवर ने आज यहां पुलिस लाईन के सभागार में स्वैच्छिक संस्था- डेवलपमेंटल एसोशिएसन फार ह्यूमन एडवांसमेंट-देहात द्वारा “मानव तस्करी एवं बाल संरक्षण” के मुद्दे पर आयोजित पुलिस अधिकारियों के प्रशिक्षण में कही।

यह कार्यशाला देहात संस्था की स्वरक्षा परियोजना के अंतर्गत कैरीटास इंडिया-नयी दिल्ली के सहयोग एवं विशेष किशोर पुलिस ईकाई व मानव तस्करी रोधी ईकाई के साथ मिलकर आयोजित की गयी थी।

उन्होने पुलिस अधिकारियों को बच्चों से जुडे मुद्दों पर गंभीरता से काम करने एवं बच्चों के प्रति होने वाले अपराधों को रोकने के लिए पुलिस अधिकारियों को टिप्स भी दिये।

मुख्य प्रशिक्षक के रूप में बोलते हुए देहात संस्था के मुख्य कार्यकारी ने कहा कि तमाम कठिनाईयों और जटिलताओं के बावजूद यदि हम बच्चों के बचपन को तबाह होने से रोक सके तो एक बेहतरीन व अपराध मुक्त समाज बनते देर नहीं लगेगी। उन्होने प्रोजेक्टर के माध्यम से किशोर न्याय अधिनियम-2015, पाक्सो एक्ट-2012 व अन्य कानूनों पर प्रशिक्षण दिया।

इसके अतिरिक्त चाईल्डलाईन-1098 के बारे में देहात संस्था की चाइल्डलाईन-1098 के समन्वयक इमरान व महिला हेल्पलाईन-181 के बारे में वंदना अवस्थी व रचना कटियार ने प्रकाश डाला।

बाल कल्याण समिति की सदस्य मैजिस्ट्रेट श्रीमती अंजुम अजीम ने बाल कल्याण समिति की बाल संरक्षण संबंधी जिम्मेदारियों पर प्रकाश डालते हुए बताया कि बच्चों के सर्वोत्तम हित को ध्यान मे रखकर कार्य करने से ही बाल मित्र समाज का निर्माण होगा और इसके लिए बाल कल्याण समिति पुलिस के साथ कटिबद्ध है।

अंत में सभी प्रतिभागी पुलिस अधिकारियों को बाल कल्याण समिति मैजिस्ट्रेट श्रीमती अंजुम अजीम द्वारा प्रमाण पत्र वितरित किये गये।

कार्यक्रम में यूनीसेफ के मंडलीय परामर्शदाता अनिल कुमार, देहात संस्था के दिव्यांशु, देहात की स्वरक्षा टीम के सदस्य हसन फिरोज, पवन वर्मा, विजय यादव, निर्मला शाह, देहात संस्था की चाइल्डलाईन टीम के सदस्य रेखा वर्मा, मनीष यादव, अरूण कुमार, अर्जुन, विंध्यवासिनी व देहात वालंटियर हिफजा अजीम व सूर्यांशु ने प्रतिभागिता की।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.