सीतापुर-अनूप पाण्डेय/NOI-उत्तरप्रदेश जनपद सीतापुर में रिश्तों को शर्मसार कर देने वाली घटना सामने आई है ।

आपको बताते चलें कुछ दिन पूर्व में सीतापुर के खैराबाद थाना क्षेत्र के कमल सराय में रहने वाले पूरे परिवार पर उन्ही के छोटे लडके इसांत व उसकी पत्नी ने रिस्तो को शर्मसार कर देने वाला काम किया है .अपने ही पूरे परिवार को समाज के सामने व अधिकारियों के सामने गुनहगार साबित करने में कोई कसर नहीं छोडा है अपने ही पिता सुरेश कुमार व माता रानी देवी व अपने बहन कुमारी दीपा को दहेज प्रथा घरेलू हिंसा जैसी कई गंभीर धाराओ में मुकदमा पंजीकृत कराया है.

सभी को भ्रमित कर अपनी नवजात शिशु के माध्यम से पूरे परिवार पर आरोप लगा दिया कि मेरी पुत्री हुई है. तो मेरे माता-पिता व परिवार वाले इसको मार डालने के लिए कहते हैं कि अपनी पुत्री को मार डालो तो तुम्हें घर में रहने देंगे जबकि ऐसा कुछ भी नहीं है सूत्रों से मिली जानकारी व परिजनों से मिली जानकारी व उनकी आंखों की नमी कुछ और ही बयां कर रही है पूरा परिवार सहमा हुआ है एक चाट का ठेला लगाने वाला व्यक्ति की क्या इनकम होगी ये पूरा समाज जानता है

मगर उसने अपने ही माता पिता से नया मकान की माग की कहा मुझे नया मकान चाहिए बनवा कर दो वरना आप लोगों को जेल की हवा खानी पड़ेगी और साथ में ही ₹50हजार दो जो कि मकान में सामान में रख सकूं जब सादी के कुछ समय पुर्व से ये पति पत्नी परिवार वालों से अलग रहने लगे थे. अब गरीब पिता सुरेश ने रोते हुए अपना दर्द बयां किया आंखें नम पत्नी अस्पताल में भर्ती है जो की सच्चाई कोई भी ये अधिकारी देखना नहीं चाहता है.

दहेज प्रथा कैसे लग सकती है कि जबकि दहेज रहित गुप्ता सम्मेलन विसवा में शादी किया था अगर दहेज ही लेना था तो दहेज रहित सम्मेलन से क्यों शादी करते उसका सर्टिफिकेट भी मौजूद है अब सबसे बड़ा सवाल यह उठता है क्या पुलिस को यह जानकारी नहीं लेनी चाहिए थी इतनी गंभीर धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कर पूरे परिवार को डरा कर रख दिया है जो कि सुरेश की पत्नी रानी इसी मुकदमें बाजी से ग्रसित होकर डिप्रेशन में चली गई और आज जिलाअस्पताल में इलाज चल रहा है अब देखना है कि इनको सीतापुर शासन व प्रशासन से क्या न्याय मिल पाता है

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.