सीतापुर -अनूप पाण्डेय, राकेश पाण्डेय/NOI-उत्तरप्रदेश जनपद सीतापुर के हरगांव । इन दिनों बरसात के मौसम में हरगांव तीर्थ की बाजार का एक नया रूप देखने मे मिलता है जो नगर पंचायत के एक दम करीब है और कभी यह बाजार काफी प्रसिद्ध मानी जाती थी , लेकिन समय चक्र के चलते इस प्रसिद्ध रही बाजार का दायरा काफी कम हो गया है । वर्तमान समय में तीर्थ बाजार में ना केवल जगह की समस्या बनी है बल्कि जगह जगह पर जल भराव की समस्या अहम बनी हुई है ।
आपको बताते चलें कि हरगांव के तीर्थ बाजार में जल निकासी का कोई भी रास्ता नही है जिससे बरसात का पानी व गंदा नालियों का पानी हमेशा खाली पड़ी जगहों में भरा रहता है। पानी के जमा रहने के कारण यहां के वाशिन्दों में भयंकर बीमारियों का भय बना हुआ है । लेकिन नगर पंचायत के जिम्मेदारों के कानों में जूँ तक नही रेंग रही है। समुचित जल निकासी की व्यवस्था न होने के कारण नालियों का गंदा पानी व कचड़े का जमाव भी बना हुआ है।

समस्या यह है कि सफाई कर्मी दस या बारह दिन में एक बार आ जाता है और वह नालियों से कचड़ा निकाल कर सड़क पर लगा देता है उसके बाद वह आता ही नहीं फिर से वह नालियों का गंदा कचड़ा फिर से नालियों व बरसात के पानी के साथ साथ बहने लगता है और वह तीर्थ बाजार व खाली पड़ी जगहों में भर जाता है ।
रही बात दुकानदारों की जो बड़े दुकानदार है उनके पास तो दुकान है जो गरीब किसान सब्जी व फल बेचने के लिए आते है उनके लिए जगह ही नहीं मिलती। यदि दुकान के लिये जगह मिल भी जाती है फिर उसकी अल्प आमदनी होने के बावजूद 20 से 50 रुपये तक जमीन का किराया व पल्लेदारों को देना पड़ता है।
यह अहम समस्या बाज़ार की है लेकिन इस पर नगर पंचायत के द्वारा अभी तक कोई भी ठोस कदम नही उठाया गया है ।
चर्चा है, कि तीर्थ बाजार की रोड व नाली का निर्माण होना था इस कार्य के लिये टेंडर भी हो चुका है पर अभी तक सड़क निर्माण व नाली निर्माण कार्य अधर में लटका हुआ है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.