Sulg-
रिपोर्ट-अनूप पाण्डेय

मो8009102979

Anchor- धरती के भगवान कहे जाने वाले डॉक्टरों ने मानवता को किया शर्मसार शराब के नशे में स्टाप नर्स को भद्दी भद्दी गालियां व मारने के लिए दौड़ाया स्टाप नर्स ने डॉक्टरों समेत फार्मासिष्ट पर शराब के नशे में धुत होकर अभद्रता,मारने पीटने,जान से मारने की धमकी,जाति सूचक गालिया देने का लगाया आरोप ।

आप को बताते चले सीतापुर गोंदलामऊ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की स्टाफ नर्स अनुराग भारती ने संदना थाने में लिखित तहरीर देकर डाक्टरो पर गंभीर आरोप लगाया हैं तहरीर में बताया गया कि पीड़िता स्टाफ नर्स के पद पर सीएचसी गोंदलामऊ में तैनात है।दिनांक 5/09/2019 को रात्रि 12:30 बजे पीड़िता ड्यूटी पर थी।उसी दौरान अधीक्षक के कमरे में अधीक्षक डॉ0 धीरज मिश्रा, व डॉ0 आशुतोष कुमार,फार्मशिष्ट नन्दकिशोर तिवारी बैठकर शराब पी रहे थे।पीड़िता उस समय लेबर रूम में डिलेवरी करा रही थी उसी दौरान एक बुजुर्ग मरीज अस्थमा से पीड़ित आया।जिसको प्राथमिक उपचार देने के लिए डॉक्टर के कहने पर इमरजेंसी रूम में गयी और विगो लगाया। मरीज को जिला चिकित्सालय भेजा जाना था।उसको एम्बुलेंस में शिफ्ट करा रहे थे।कि उसी दौरान अधीक्षक के कमरे से अधीक्षक के कहने पर डॉ0 आशुतोष आये और बिना बात के जोर जोर से गालिया देने लगे मेरे मना करने में मुझे माँ बहन की गंदी गालिया दी।और तुझे मैं बताता हूँ कहते ही मारने के लिए हाथ उठाया।मेरे मना करने पर डॉ0 आशुतोष जातिसूचक गाली देते हुए आमादा फौजदारी हो गए।जब मैं उस स्थान से जाने लगी तो पीछे से मुझे पकड़कर अमर्यादित भाषा का प्रयोग करते हुए जान से मारने की धमकी दी।पीड़िता किसी तरह अपनी जान बचाकर अपने आपको लेबर रूम में बन्द कर लिया।
जब अधीक्षक के रूम में उक्त घटना की सूचना देने लगी तो अधीक्षक व फार्माशिष्ट स्वयं नशे के हालात में धुत पड़े हुए थे।जहाँ से पीडिता वापस लौट आयी 11, सितम्बर को इसकी सूचना थाना संदना में दी।पर संदना पुलिस ने कोई कार्यवाही न करते हुए पीड़िता की रिपोर्ट तक नही दर्ज की। मगर सब सबसे बड़ा सवाल यह उठता है कि इस सीएससी पर कोई नई बात नहीं है इसके पूर्व में भी लगातार सूचनाएं आती रही कि वहां पर शाम होते ही शराब की जाम छलक ने लगता है जब स्वास्थ्य विभाग के डॉक्टर ही इस प्रकार करेंगे तो क्रिमिनल ओं में और डॉक्टर में क्या फर्क रह जाएगा धरती के भगवान कहे जाने वाले इन डॉक्टरों को शर्म तक नहीं आती है कि शराब पीकर इस प्रकार एक महिला के साथ अभद्रता करते हैं
वही मुख्य चिकत्सा अधिकारी आर के नैय्यर से बात की गई तो उन्होंने जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

बाइट-सी.एम.ओ आर के नैय्यर

बाइट-स्टाप नर्स अनुराग भारती

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.