असत्य पर सत्य की हुई जीत ,धू-धू कर जल उठा अहंकार और बुराई का प्रतीक रावण का वध होते गूंज उठे जय सियाराम के जयकारे……..

अब्दुल अज़ीज़

बहराइच :(NOI):- असत्य पर सत्य की विजय स्वरूप मनाये जाने वाले विजय दशमी का पारम्परिक त्यौहार दशहरा आज रावण के वध के साथ परम्परागत तरीके से सम्पन्न हो गया।इस अवसर स्थानीय रामलीला कमेटी के तत्वाधान में बाहर से आये रामलीला मंचन के कलाकारों द्वारा हंकार, अनाचार, अत्याचार और बुराई का प्रतीक रावण को मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम के अग्निबाण चलाते ही लगभग 45 फिट का उसका पुतला धू-धू कर जल गया और इस तरह एक बार फिर बुराई पर अच्छाई की जीत के साथ ही अनाचार पर सदाचार की विजय और असत्य पर सत्य की जीत हुई ।

शहर की 114 वर्ष पुरानी ऐतिहासिक रामलीला में मंगलवार को मेघनाद, कुंभकर्ण और रावण वध का मंचन किया गया। आज रावण का वध होते ही पूरा रामलीला मैदान भगवान राम के जयकारों से गूंज उठा। आज की इस
रामलीला में राम और लक्ष्मण मैदान पहुंचे। इससे पूर्व प्रकाण्ड विद्वान रावण ने राम से युद्ध में विजय प्राप्ति के लिए शहर के पांडवकालीन श्री सिद्धनाथ मंदिर में शिव की आराधना कर विजय का आशीष माँगा । इसके बाद नगर के प्रमुख मार्गों से होते हुए रावण सेना सहित झिंगहाघाट स्थित लीला स्थल पहुँचा । राम रावण युद्ध से पूर्व हुई लीला में कुम्भकर्ण और मेघनाथ भी मारे गए । इसके बाद राम और रावण का युद्ध शुरू हुआ ।

घण्टों चले युद्ध के बाद राम के एक साथ इक्कीस बाण छोड़े जाने पर रावण के नाभि का अमृत सूख जाता है। उसके दसों सिर और दसों भुजाएं कट गई । इसी के साथ रावण का अंत हो गया । रावण का वध होते ही पूरा रामलीला मैदान भगवान राम के जयकारों से गूंज उठता है। बाद में रावण का पुतला दहन हुआ श्री राम के अग्निबाण चलाते ही रावण का पुतला धू धू कर जल उठा । दशहरा मेला देखने को शहर ही नहीं पूरे जिले से भारी भीड़ जुटी। नगर में हुए दशहरा मेले मगलवार को रावण वध का सजीव मंचन किया गया। प्रख्यात रामलीला कलाकारों ने अपनी अभिनय प्रतिभा से दर्शकों का मन मोह लिया।
रामलीला कलाकारों ने मेघनाद, कुंभकर्ण वध के बाद रावणवध की लीला का कलाकारों ने सजीव मंचन किया। कलाकारों ने दिखाया कि रावण भगवान राम से मायावी युद्ध करता है।

मेघनाद कुंभकर्ण सहित धीरे धीरे सभी राक्षस राम के हाथों मारे जाते है अंत में भीषण युद्ध के बाद श्रीराम के हाथों रावण का वध होता है और वह वीरगति को प्राप्त होता है । पूरी लीला का तमाम श्रद्धालुओं ने जमकर लुत्फ उठाया। रामलीला देखने वालों की भारी भीड़ मेला मैदान पर लगी रही। इस दौरान मुख्य अतिथि के रूप में प्रदेश के सहकारिता मंत्री मुकुट बिहारी वर्मा पूर्व राज्यमंत्री अनुपमा जायसवाल रामलीला कमेटी के अध्यक्ष श्याम करण टेकड़ीवाल सांसद अक्षयवर लाल गौड़ विधायक सुरेश्वर सिंह जिलाधिकारी शम्भु कुमार पुलिस अधीक्षक डॉ0 गौरव ग्रोवर ए0 डी0 एम0 जय चंद पांडेय एस पी सिटी अजय प्रताप क्षेत्राधिकारी टी0एन0 दुबे जय जय अग्रवाल विनोद कोठारी संतोष अग्रवाल कमल शेखर गुप्ता विनय जैन हरिश्चंद्र गुप्ता सुदामा मिश्र राधारमण यज्ञसेनी राहुल राय अशोक सैनी आनन्द प्रकाश गुप्ता राधेश्याम त्रिपाठी अनुराग गुप्ता सहित प्रशासनिक अमला मौजूद रहा ।

मीडिया प्रभारी आनन्द प्रकाश गुप्ता ने बताया कि 11 अक्टूबर को पुराना महाराज सिंह इण्टर कालेज के समीप से भरत मिलाप जुलूस का आयोजन होगा जो नगर के मुख्य मार्गों से होते हुए बिसातखाना चबूतरा पर राम और भरत के मिलाप से सम्पन्न होगा इसी के साथ 12 अक्टूबर को बिसातखाना चबूतरा पर भगवान श्री राम का राज्याभिषेक होगा 13 अक्टूबर को राज्यभिषेक के अवसर विशाल जवाबी कीर्तन का आयोजन शहर के शाही घंटाघर में आयोजित होगा ।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.