बहराइच में दुर्गा प्रतिमा विसर्जन को शांति पूर्वक सम्पन्न कराने हेतु प्रशासन ने कसी कमर,जिले के चप्पे चप्पे पर रखी जा रही है पैनी नजर…….

अब्दुल अज़ीज़

बहराइच :(NOI):- जिले में शांतिपूर्वक दशहरा कार्यक्रम सम्पन्न हो जाने के बाद जहां कुछ क्षणों के लिये प्रशासन ने राहत की सांस ली थी वहीं आज होने वाले विसर्जन को लेकर उनकी चिंताएं एक बार फिर बढ़ सी गयी हैं और जिले के तेज तर्रार प्रशासनिक अधिकारी पुलिस अधीक्षक डॉक्टर गौरव ग्रोवर व जिलाधिकारी शम्भु कुमार जिले में इस कार्यक्रम को शांति पूर्वक सम्पन्न कराने के लिये पूरी तरह कमर कस कर अपनी कुशल प्रशासनिक कार्यशैली को प्रदर्शित करने में जुटे हुये हैं।बीते करीब एक सप्ताह से इन अधिकारियों ने जिले भर में कर्मचारियों और आम जनमानस के साथ बैठकें कर इसे शांति पूर्वक सम्पादित करने में जी जान लगाये हुए हैं।

इस सम्बंध में जिले को विशेष रूप से किसी दुर्ग की भांति सुरक्षा घेरे में लेते हुये अधिकारियों व कर्मचारियों की तैनाती कर दी गयी है और चप्पे चप्पे पर सुरक्षा बलों को उनकी जिम्मेदारी का अहसास कराते हुये खुद भी रुट मार्च और मोटर साइकिलों से पेट्रोलिंग कर बेहतर व्यवस्था का लोगों को अहसास करा दिया है।आज मां दुर्गा प्रतिमा के विसर्जन के सन्दर्भ में पुलिस अधीक्षक के निर्देशानुसार जनपद के कस्बा नानपारा, कैसरगंज, रिसिया, फखरपुर, जरवल आदि स्थानों में तथा बहराइच शहर क्षेत्र के विसर्जन स्थल मार्ग पर व विसर्जन स्थलों पर खास तौर से ड्रोन कैमरे के माध्यम से अराजक तत्वों पर कड़ी सतर्क दृष्टि रखी जा रही है, इसके साथ ही अन्य सूचना तंत्र का भी प्रयोग किया जा रहा है।

मीडिया सेल एवं सर्विलांस सेल तथा साइबर सेल द्वारा सोशल मीडिया पर भी सतर्क दृष्टि रखी जा रही है। प्रतिमा विसर्जन के मद्देनजर क्षेत्राधिकारी नगर के अनुसार ड्रोन कैमरे के द्वारा निगरानी की जा रही है।सिटी मजिस्ट्रेट व क्षेत्राधिकारी नगर त्रयंबक नाथ दुबे व फोर्स द्वारा आज प्रतिमा विसर्जन पर गुल्लाबिर मंदिर से चांदपूरा,छावनी चौक,घण्टाघर,पीपल तिराहा,गुदड़ी तिराहा,ट्रांसफार्मर तिराहा होते हुए बशीर गंज के रास्ते विसर्जन स्थल झिंगहा घाट तक ड्रोन कैमरे से निगरानी किया गया।उक्त निगरानी मूर्ति विसर्जन तक लगातार रखी जा रही है।कुल मिला कर लगभग सभी तैयारियांं पूरी कर ली गयी हैं।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.