उन्नाव रेप कांड और विभिन्न जन समस्याओं के विरोध में विभिन्न संगठनों ने दिया ज्ञापन…….

अब्दुल अज़ीज़

बहराइच : (NOI) बहराइच जनपद में आज का दिन ज्ञापनों को देने के रूप में रहा जहाँ विभिन्न समस्याओं के निस्तारण की मांग लेकर विभिन्न संगठनों द्वारा राष्ट्रपति और राज्यपाल को सम्बोधित ज्ञापन जिला प्रशासन को सौंपा गया।इसी क्रम में राष्ट्रीय लोकदल की जिला इकाई द्वारा जिलाध्यक्ष डा0अज़ीमुल्ला खान के नेतृत्व में प्रदेश में फैली अराजकता और निरन्तर बिगड़ती जा रही कानून व्यवस्था का विरोध करते हुये और उन्नाव रेप कांड को एक गम्भीर अपराध करार देते हुये इन सभी के लिये प्रदेश की योगी सरकार को जिम्मेदार ठहराया।

नगर मजिस्ट्रेट को पेश किये गये अपने ज्ञापन में राष्ट्रीय लोकदल ने तत्काल योगी सरकार को बर्खाश्त करने की मांग करते हुये प्रमुख रूप से उन्नाव कांड के दोषियों को फ़ास्ट करेक्ट कोर्ट के जरिये फाँसी दिये जाने की मांग की है।उन्होंने आगे ये भी मांग की है कि उन्नाव रेप कांड की पीड़ित परिवार को 2 करोड़ रुपये का मुआवजा भी दिया जाना चाहिये,इसके अलावा जनता की समस्याओं का जिक्र करते हुये जिले के यातायात प्रभारी द्वारा वाहन चेकिंग के नाम पर की जा रही अवैध वसूली के प्रति उनके खिलाफ कार्यवाही और किसानों की समस्याओं के प्रति चिंता व्यक्त करते हुये सूखी पड़ी नहरों में पानी

छोड़ने,किसानों को उनके अनाज का अपेक्षित मूल्य और गन्ने के बकाया भुगतान कराने की भी मांग की गई है।इसी प्रकार मान्यता प्राप्त पत्रकारों को चिकित्सकीय व्यवस्था कराने की मांग के लिये जिला मान्यता प्राप्त पत्रकार एशोसिएशन के मंडल अध्यक्ष शादाब हुसैन और जिले के वरिष्ठ पत्रकार अलीमुल हक के नेतृत्व में दर्जनों पत्रकारों ने राज्यपाल को बाधित एक ज्ञापन नगर मजिस्ट्रेट को पेश किया।

ज्ञापन देने की इस श्रंखला को आगे बढाते हुये अखिल भारतीय विश्वकर्मा शिल्पकार महा सभा ने भी उन्नाव रेप काण्ड की निंदा करते हुये मृतका रेप पीड़िता को न्याय दिलाते हुये सभी आरोपियों को फाँसी दिये जाने की मांग की है वही दूसरी तरफ केन्द्र सरकार द्वारा नागरिकता संशोधन विधेयक को संविधान विरोधी बताते हुये रिहाई मंच के कार्यकर्ताओं ने जिला संयोजक एम आई इस्लाम के नेतृत्व में ज्ञापन दिया है,इसके अलावा इस संगठन ने भी प्रदेश में फैल रहे जंगल राज पर चिंता जताते हुये मुख्यमंत्री को तत्काल पदमुक्त किये जाने की मांग की है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.