सीतापुर-अनूप पाण्डेय.नैमिष शुक्ला/NOI-उत्तरप्रदेश जनपद सीतापुर के पिसावा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में डॉक्टर की अपनी मनमानी चलती है.
सूबे की सरकार चाहे जितनी योजनाएं लागू कर ले चाहे जितनी कड़े निर्देश जारी कर दे मगर यहां पर डॉक्टरों पर कानों तक जूं तक नहीं रेंगती है ।

स्वच्छ भारत मिशन पे लगा रहे पलीता डॉक्टर

आपको बताते चलें सीतापुर जनपद के पिसावा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में अधीक्षक बतौर डॉक्टर संजय श्रीवास्तव नियुक्त हैं जो कि अपने मनमाने तरीके से सीएचसी पर आते और जाते हैं आज 12 बजे जब अधीक्षक के कमरे में मीडिया टीम गयी तो वहा के स्टाप ने बताया की कल आये थे आज नही आये है डॉक्टर साहब का मन होता है तो आ जाते है स्टाप से फोन से बात कराने के लिए कहा गया तो स्टाप ने बताया की उनका फोन भी नही उठता है । सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर मरीजों ने बताया कि यहां पर अधीक्षक कभी कभार आ जाते हैं।

(गन्दगी का लगा अम्बार पिसावां)

पूरे परिसर में गंदगी का अंबार लगा हुआ है पानी पीने की व्यवस्था नहीं है जो भी मरीज आते हैं वह बाहर 500 मीटर की दूरी पर नल लगा है जिसमें पानी पीकर दवा खाते हैं यह ऐसा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र है जहां पर पानी और साफ-सफाई की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं एक तरफ सूबे की सरकार लगातार स्वास्थ्य विभाग को बेहतर सुविधा मुहैया करा रहा है दूसरी तरफ से डॉक्टर उनकी सारी मेहनत पर कालिख पोतने में लगे हुए हैं सरकार की इस प्रकार से योजनाओं को पलीता लगा रहे डॉक्टर तो कैसे सरकार की मंशा पूरी होगी ।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.