सीतापुर-अनूप पाण्डेय/NOI-उत्तर प्रदेश जनपद सीतापुर में इस समय स्वास्थ्य विभाग अपने मनमाने तरीके से चल रहा है जिसमें बिना रजिस्ट्रेशन बिना डॉक्टर के ट्रामा सेंटर जैसे क्लीनिक फल फूल रहे हैं ।मगर स्वास्थ्य विभाग से आला अफसर कुम्भ करण की नीद में सो रहे हैं। ताजा मामला सीतापुर जनपद के सामुदायिक केंद्र परसेंडी क्षेत्र के कसरैला का है जहा पर मरीजों की जान व जेब पर डाका डाला जा रहा है पूर्णतया फर्जी ट्रामा सेंटर चल रहा है जहां करीबन 10 कमरों में हड्डी से लगाकर टीवी मरीज और डिलीवरी सीजर ऑपरेशन डीएनसी तक किया जाता है सूत्रो की माने तो पूरा संरक्षण स्वास्थ्य विभाग के आला अफसरों का है कोई भी डॉक्टर नही है सभी फर्जी डॉक्टरी करते हैं ना तो उनके पास डिग्री है ना ही रजिस्टर्ड है मगर स्वास्थ्य महकमा उस पर रहमो करम बनाये है

जब इस संबंध में मुख्य चिकित्सा अधिकारी का प्रभार संभाले पीके सिंह से बात की गई तो उन्होंने कहा कि मिडिया टीम के कहने से कोई भी कार्यवाही नहीं की जा सकती है। अब सबसे बड़ा सवाल ये उठता है की मिडिया द्वारा बड़े -बड़े घोटालों का खुलासा करती है मगर यहाँ तो पूरा सिस्टम ही उल्टा है जिससे साफ तौर पर अंदाजा लगाया जा सकता है। कि कहीं ना कहीं प्रभारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी पी के सिंह व नोडल अधिकारी ड़ॉ सुरेन्द्र साही के संरक्षण में यह ट्रामा सेंटर फल फूल रहा है ।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.