Breaking NewsNewsउत्तर प्रदेश

टीम इंसानियत द्वारा भोजन सेवा के 100 दिन हुए पूरे

इन्सानियत वेल्फेयर सोसाइटी ने कोरोना योद्धाओं का किया सम्मान

लखनऊ, इंसानियत वेल्फेयर सोसाइटी मस्जिद नूर के कम्यूनिटी किचन द्वारा पिछले 99 दिनों से लगातार इन्सानियत वेल्फेयर सोसाइटी मस्जिद नूर द्वारा covid 19 यानी कोरोना वाॅयरस के कारण लगे लॉकडाउन में ग़रीब, ज़रूरत मन्दों, प्रवासी मज़दूरों,अलग अलग अस्पतालों ग़रीब बस्तियों में लाखों लोगों तक ख़ाना पहुंचाने का कार्य लगातार कर रही है।


30 जून को इन्सानियत वेल्फेयर सोसाइटी को यह कार्य करते हुए पूरे 100 दिन हो गयें हैं। इस मौके पर इन्सानियत वेल्फेयर सोसाइटी के संस्थापक /अध्यक्ष कुदरत ख़ान ने सोसाइटी के इन्द्रानगर स्थित कम्युनिटी किचन पर एक धन्यवाद-सम्मान कार्यक्रम रक्खा। जिसमें हर एक उस इन्सान को जिसने सोसाइटी को अपना सहयोग प्रदान किया सोसाइटी के अध्यक्ष कुदरत ख़ान ने उन सब को धन्यवाद कहते हुए कहा कि ये काम आप लोगों के सहयोग के बिना नहीं हो सकता था कुदरत ख़ान ने पत्रकारों को ख़ासतौर से धन्यवाद अदा करते हुए कहा कि आप की कलम और रिपोर्टिंग ने हमें बहुत हौसला दिया है साथ ही साथ अपनी पूरी टीम को शुक्रिया अदा किया जिसने अपनी जान की परवाह न करते हुए दिन और रात ज़रूरत मन्दों तक ख़ाना पहुंचाने का काम किया है इस मौके पर कई कोरोना योध्दाओं को सम्मानित भी किया। सम्मानित होने वालों में पत्रकार अब्दुल वहीद,परवेज़ आलम, अज़ीज़ सिद्दीकी,अभय अग्रवाल,जुबैर अहमद,नजम अहसन, अशफ़ाक,तौसीफ हुसैन,इरफान,फ़िरोज़ खान,मिर्जा आरिफ बेग,आमिर साबरी, मोहम्मद जाहिद,आमिर मुख्तार, छायाकार आरिफ मुक़ीम,बी आर दास आदि प्रमुख थे।इस आयोजन में मौजूद वरिष्ट पत्रकार अब्दुल वहीद की यौमे पैदाइश के मौके पर उन्हें स्मृति चिन्ह देकर विशेष रूप से उन्हें सम्मानित करके बधाई दी गई।सोसाइटी के संस्थापक कुदरत ख़ान के साथ सचिव मोo इमरान, सरपरस्त सैयद मोहम्मद आरिफ, हाफिज मोहम्मद सलमान,शहजादे कलीम, मोहम्मद फैज़ान कुरैशी,मोहम्मद अफ़ज़ल (ग्रीन कैफ़े) मोहम्मद अफ़ज़ल, मोहम्मद आदिल, मोहम्मद ज़ैद, सुमित कश्यप , मोहम्मद नोमान, युसूफ गाज़ी,अख़लाक़ गाज़ी, सैयद आदिल, मौजूद रहे।.
धन्यवाद भवदीय कुदरत ख़ान अध्यक्ष

इन्सानियत वेल्फेयर सोसाइटी

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button
Close
Close