reporters
डीएम ने किया सी०एच०सी० औरास का औचक निरीक्षण

डीएम ने किया सी०एच०सी० औरास का औचक निरीक्षण

शमी खान

मरीज को एल०-टू में शिफ्ट करने हेतु पूर्व से ही की जाएं सारी व्यवस्थाएं-डीएम

जिलाधिकारी ने दिये परिषर में साफ-सफाई रखने के निर्देश

मरीजों को नहीं होनी चाहिए किसी भी प्रकार की समस्या-डीएम

उन्नाव 22 अगस्त । जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार ने शनिवार को विकासखंड औरास के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में बने हुए एल-वन अस्पताल का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने सी०एच०सी० औरास के एल-वन अस्पताल में पर्याप्त मेडिकल टीम तैयार करने हेतु संबंधित को निर्देशित किया। जिलाधिकारी ने कहा कि मरीजों को अस्पताल में किसी भी प्रकार की समस्या नहीं उत्पन्न होनी चाहिए। समस्त मेडिकल स्टाफ सहित सारी सुविधाएं मरीजों के लिए मुहैया कराने के निर्देश दिए।
जिलाधिकारी ने संबंधित को निर्देशित करते हुए कहा कि परिसर की साफ-सफाई तत्काल कराते हुये यह सुनिश्चित करें कि परिसर में किसी भी प्रकार की गंदगी नहीं होनी चाहिए। जिस पर जिलाधिकारी महोदय को अवगत कराया गया कि प्रतिदिन तीन बार परिसर में साफ-सफाई की जा रही है तथा मरीजों की चादर/बिस्तर प्रतिदिन बदले जा रहे हैं।
निरीक्षण के दौरान समस्त चिकित्सक स्टाफ उपस्थित पाया गया। जिलाधिकारी को अवगत कराया गया कि चिकित्सक प्रतिदिन राउंड ले रहे हैं तथा सी०सी०टी०वी० कैमरे भी लग गए हैं तथा मरीजों का खास ख्याल रखा जा रहा है।

इस दौरान जिलाधिकारी ने कोरोना संक्रमित भर्ती रोगियों के उपचार आदि की जानकारी ली। तथा मरीजों की संख्या के संबंध में जानकारी ली जिस पर जिलाधिकारी महोदय को अस्पताल में वर्तमान में 18 मरीज होना बताया गया। उन्होंने मरीजों को दिये जाने वाले भोजन पानी आदि की व्यवस्था संबंधी जानकारी प्राप्त की। उन्हें अवगत कराया गया कि मरीजों को खाना-पीना अच्छी क्वालिटी का,समय से तथा भर पर उपलब्ध कराया जा रहा है। उन्होंने कहा मरीजों को खाने-पीने, उठने बैठने आदि की कोई भी समस्या नहीं होनी चाहिए। जिलाधिकारी ने मरीजों का खास ख्याल रखने हेतु संबंधित को निर्देशित किया।
जिलाधिकारी ने संबंधित को आवश्यक दिशा निर्देश निर्गत करते हुए कहा कि अगर किसी मरीज की तबीयत ज्यादा ही बिगड़ जाए और उसे एल-टू अस्पताल में शिफ्ट करना पड़े तो ऐसी स्थिति में मुख्य चिकित्सा अधिकारी/संबंधित अधिकारी व सरस्वती मेडिकल कॉलेज के कार्यदायी निदेशक से पहले से ही संपर्क स्थापित कर मैनेजमेंट/तैयारी कर मरीज को एल-टू अस्पताल में ले जाया जाए। जिससे कि मरीज को किसी भी प्रकार की असुविधा का सामना न करना पड़े और उसका तुरंत उपचार हो सके।
निरीक्षण के दौरान उप जिलाधिकारी हसनगंज प्रदीप वर्मा, प्रभारी चिकित्साधिकारी सहित समस्त सम्बन्धित उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *