reporters
नोडल अधिकारी ने किया सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र महसी का निरीक्षण, तहसील महसी में की बाढ़ राहत व बचाव कार्यों की समीक्षा

नोडल अधिकारी ने किया सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र महसी का निरीक्षण, तहसील महसी में की बाढ़ राहत व बचाव कार्यों की समीक्षा

नफीस अहमद /शहबाज़

बहराइच 03 सितम्बर। कोविड-19 एवं बाढ़ राहत कार्य के अनुश्रवण हेतु शासन द्वारा नामित नोडल अधिकारी विशेष सचिव, पंचायती राज, उ.प्र. शासन राकेश कुमार ने नान कोविड सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र महसी का निरीक्षण कर विभिन्न व्यवस्थाओं का जायज़ा लिया तथा मौके पर मौजूद अधिकारियों एवं कर्मचारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये। महसी क्षेत्र के भ्रमण के दौरान नोडल अधिकारी तहसील महसी अन्तर्गत बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में संचालित बचाव एवं राहत कार्यों की भी समीक्षा की।

बाढ़ राहत व बचाव कार्यों की समीक्षा के दौरान उपजिलाधिकारी, एस.एन. त्रिपाठी ने बताया कि तहसील अन्तर्गत वर्तमान में 47 राजस्व गाॅव 17464 प्रभावित परिवारों को राहत सामग्री किट तथा 1690 लोगों को तारपोलीन शीट उपलब्ध करायी जा चुकी है। तहसील अन्तर्गत बाढ़ प्रभावित 47 ग्रामों में वर्तमान समय तक 5400 लोगों को तारपोलीन शीट, 03 पशु हानि के सापेक्ष रू. 90 हज़ार, 09 जनहानि के सापेक्ष रू. 36 लाख, क्षतिग्रस्त मकानों हेतु 160 क्षतिग्रस्त झोपड़ी हेतु रू. 06 लाख 56 हज़ार, 31 क्षतिग्रस्त पक्के मकानों हेतु रू. 29 लाख 48 हज़ार 100 तथा 10 क्षतिग्रस्त कच्चे मकानों हेतु रू. 09 लाख 51 हज़ार की धनराशि का भुगतान कराया जा चुका है। इसके अलावा नदी में समाहित कुल भूमि 128.978 व कृषि योग्य प्रभावित भूमि 10140.678 हे. हेतु अनुमन्य राशि के भुगतान का प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है अतिशीघ्र अहेतुक राशि का भुगतान सम्बन्धित को करा दिया जायेगा। वर्तमान में कोई देयता शेष नहीं है।

नोडल अधिकारी श्री कुमार ने उप जिलाधिकारी महसी को निर्देश दिया कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के सभी प्रभावित ज़रूरतमन्द लोगों को शासन द्वारा अनुमन्य राहत प्रदान की जाय। राहत केन्द्रों व वितरण स्थलों पर साफ-सफाई के साथ सैनिटाईज़ेशन का भी विशेष ध्यान रखा जाय। श्री कुमार ने कहा कि राहत सामग्री के वितरण करते समय लगाये गये अधिकारियों एवं कर्मचारियों के साथ-साथ बाढ़ प्रभावित लोगों द्वारा भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जाय और सभी सम्बन्धित लोग अनिवार्य रूप से मास्क भी पहने।

सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र महसी के निरीक्षण के दौरान डाॅ. आशीष वर्मा द्वारा बताया कि प्रभारी चिकित्साधिकारी डाॅ. प्रवीण कुमार पाण्डेय एवं डाॅ. राकेश कुमार मौर्य कोरोना संक्रमति पाये जाने के कारण होम आईसोलेट है। डाॅ. वर्मा ने बताया कि केन्द्र अन्तर्गत अब तक 29 कोरोना वायरस से संक्रमित मामले पाये गये है, जिसमें से 22 मरीज सक्रिय हैं एवं 07 की रिपोर्ट निगेटिव पाये जाने पर उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया है। उपरोक्त 22 मरीजों में से 13 मरीजों को एल-1 व 01 मरीज़ को एल-2 हास्पिटल में रखा गया है तथा 08 मरीजों को होम आइसोलेट किया गया है।

निरीक्षण के दौरान कोविड हेल्प डेस्क संचालित पाया गया तथा केन्द्र की साफ-सफाई संतोषजनक पायी गयी। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव हेतु सैनिटाइजेषन कराया जा रहा है तथा उक्त अस्पताल में स्थापित कोविड हेल्प डेस्क के माध्यम से समस्त आगन्तुकों का परीक्षण किया जा रहा है। नोडल अधिकारी ने निर्देश दिया कि अपने को सुरक्षित रखते हुए पी.पी.ई.किट पहनकर ही हास्पिटल में प्रवेश करें, प्रतिदिन परिसर की साफ-सफाई एवं सैनिटाइज करायें। निरीक्षण के समय नोडल अधिकारी के लाइज़न आफिसर पंकज शर्मा भी मौजूद रहे

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *