reporters
एम्स के डॉ सुधीर गुप्ता अपने ही बयान पर फंसे…

एम्स के डॉ सुधीर गुप्ता अपने ही बयान पर फंसे…

दीपक ठाकुर

सुशांत सिंह राजपूत ने आत्महत्या की थी ये बात पहले मुम्बई का विवादित कूपर अस्पताल कहता था लेकिन अब यही बात दिल्ली के एम्स अस्पताल ने भी कह दी है लेकिन इसी बात ने एक विवाद को जन्म दे दिया है विवाद उस जांच टीम के हेड डॉ सुधीर गुप्ता ने खुद खड़ा किया है आपको मालूम ही होगा कि बीती14 जून को सुशांत सिंह राजपूत अपने ही फ्लैट में मृत पाए गए थे जिस पर मुम्बई पुलिस और कूपर अस्पताल ने एक सुर में बिना वक़्त गंवाए उसे आत्महत्या करार दे दिया था हालांकि मुम्बई के कूपर अस्पताल की पीएम रिपोर्ट में कई खामियां भी थी बावजूद इसके उसे आत्महत्या ही कहा गया जिसपर परिवार ने आपत्ति जताते हुए कोर्ट की शरण ले उसके बाद मामला सीबीआई को दिया गया।सीबीआई ने इस मामले में गंभीरता दिखाते हुए कूपर अस्पताल की पीएम रिपोर्ट पर संदेह जताया और एम्स के डॉ से दोबारा जांच का आग्रह किया।

एम्स के डॉ सुधीर गुप्ता उस जांच टीम के हेड बनाये गए उन्होंने अगस्त महीने में एक न्यूज चैनल के पत्रकार से इस विषय मे बात करते हुए कूपर अस्पताल पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया उन्होंने कहा कि ये रिपोर्ट सही नही है क्योंकि इसमें ना मौत का समय लिखा है और ना ही चोट के निशानों का ज़िक्र है उन्होंने ये भी कहा कि अब इतने दिन बीत जाने के बाद इसका सही आकलन कर पाना भी मुश्किल है क्योंकि मौक़ाएवरदात से काफी छेड़ छाड़ भी हो गई है यानी उनका इशारा इस ओर था कि इसकी सही रिपोर्ट बना पाना अब बेहद मुश्किल है लेकिन लगभग 42 दिन बाद इन्ही डॉ सुधीर गुप्ता ने कूपर अस्पताल की पीएम रिपोर्ट को सही ठहराते हुए सुशांत सिंह की मौत को आत्महत्या बता कर अपनी रिपोर्ट सीबीआई को सौंप दी।

अब वही न्यूज़ चैनल उनके बयान को लेकर उन्हें घेरता हुआ नजर आ रहा है और डॉ सुधीर उस टेप का खंडन करते नज़र आ रहे हैं लेकिन जो दिख रहा है वो यही बता रहा है कि डॉ सुधीर झूट बोल रहे हैं वो ऐसा क्यों कर रहे हैं ये बात भी जांच के बाद सामने आ ही जाएगी क्योंकि बीजेपी इस मामले में एम्स के डायरेक्टर को पत्र लिख कर मामले की जांच कराए जाने की बात कह रही है वही सीबीआई ने भी साफ कर दिया है कि उसकी जांच में हत्या का एंगल भी है यानी एम्स की रिपोर्ट उसके लिए कोई मायने नही रखती लेकिन सवाल यही है कि जो डॉ सुधीर गुप्ता पहले छाती थोक के कूपर अस्पताल की लापरवाही गिना रहे थे वही अब कूपर अस्पताल की रिपोर्ट का समर्थन क्यों करने लगे क्या वाकई सुशांत की मृत्यु के पीछे कोई बड़ी साजिश है और इस साजिश में कोई बहुत बड़ा नेता शामिल है ये सवाल अब सही भी लगने लगा है जिसका जवाब सही सही मिले देश को यही उम्मीद है।


Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.