reporters
हाथरस कवरेज के दौरान घिर गईं श्वेता सिंह…

हाथरस कवरेज के दौरान घिर गईं श्वेता सिंह…

दीपक ठाकुर

 

यूपी के हाथरस में युवती की मौत कैसे हुई ये भी किसी रहस्य से कम नज़र नही आ रहा जिसका मुख्य कारण ये है कि वहां जो न्यूज़ चैनल जा कर रिपोर्टिंग कर रहे हैं वो एक पक्ष की बात सुनकर अपनी बात जनता के सामने रख रहे हैं लेकिन आर भारत की रिपोर्टिंग और उसके सुबूत ने पूरे मामले में अपना सटीक विश्लेषण कर वहां की जनता की दिल जीत लिया जनता को ये लगने लगा कि आर भारत ही ऐसा न्यूज़ चैनल है जो सच के साथ खड़ा है ।जैसा कि हम सभी ने देखा कि हाथरस पर आर भारत को छोड़कर जितने भी चैनल थे सभी ने पीड़ित के घर पर ही अपना ध्यान केंद्रित रखा और लगातार पीड़ित की भाभी से लाइव करते नज़र आ रहे थे लेकिन आर भारत ने पीड़िता की माँ के बयान के आधार पर अपनी पत्रकारिता की जिससे ये साफ हुआ कि वहां जो दिखाया जा रहा है सच वो नही है।

इसी बात को लेकर वहां की जनता भी नाराज़ दिखी मंगलवार की सुबह जब आजतक की रिपोर्टर श्वेता सिंह ग्राउंड ज़ीरो पर रिपोर्ट करने पहुंची तो वहां की जनता ने उन्हें घेर लिया और आरोप लगाया कि आपका चेनल सही खबर नही दिखा रहा काफी देर तक इसी बात को लेकर श्वेता सिंह के साथ वार्तालाप हुई ये पूरी कवरेज आर भारत के कैमरे में कैद हो गई जिसमें दिखा के श्वेता सिंह हाथ जोड़कर गांव वालों से माफी मांग रही थी और कह रही थी कि अब ऐसा नही होगा अब आजतक भी निष्पक्षता के साथ खबर दिखायेगा बहस के दौरान तो नौबत यहां तक आ गई थी कि श्वेता सिंह कहने लगी के लड़की को घेर के मर्दानगनी दिखा रहे हैं आप लोग यानी उनमें गांव के गुस्से का डर भी था लेकिन इसमें श्वेता का कोई दोष नही रिपोर्टर अपने बॉस के आधीन होता है ये बात समझने की ज़रूरत है।


इस पूरे घटनाक्रम को देख कर यही लगा कि किसी भी चैनल को राजनैतिक पचड़े में नही पड़ना चाहिए आपका काम जनता तक सच लाना है आप उसे लाइये पीड़ित का पक्ष आपके लिए ज़रूरी है लेकिन जिसे मुजरिम करार दिया जा रहा है उसकी बात भी आपको सुननी चाहिए जब ये साफ हो गया है कि हाथसर में जो हुआ उसपर राजनीति चरम पर हो रही थी तो न्यूज़ चैनल को इसका हिस्सा नही बनना चाहिए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *