reporters
फ्लिपकार्ट ग्रॉसरी ने उत्तर प्रदेश में किया विस्तार

फ्लिपकार्ट ग्रॉसरी ने उत्तर प्रदेश में किया विस्तार

लखनऊ, कानपुर और इलाहाबाद में उपभोक्ताओं की जरूरतों
के लिए लखनऊ में खोला पहला ग्रॉसरी फुलफिलमेंट सेंटर

लखनऊ। भारत के स्वदेशी ई-कॉमर्स मार्केटप्लेस फ्लिपकार्ट ने आज से उत्तर प्रदेश में अपना ग्रॉसरी परिचालन शुरू करने की घोषणा की है और इसके तहत् यह ग्राहकों के लिए सुविधाजनक तरीके से तथा उन्नत क्वालिटी के ग्रॉसरी उत्पादों को तेजी से मुहैया कराएगा। इस विस्तार के चलते फ्लिपकार्ट ने राज्य में लखनऊ में अपना पहला फुलफिलमेंट सेंटर खोला है जिसका उद्घाटन वर्चुअल तरीके से सोमवार, 09 नवंबर को उद्योग मंत्री श्री सतीश महाना ने किया।
फ्लिपकार्ट की यह सुविधा करीब 50,000 वर्ग फीट क्षेत्रफुल में फैली है और यह लखनऊ कानपुर तथा इलाहाबाद में उपभोक्ताओं तक ग्रॉसरी उत्पादों की डिलीवरी में मददगार होगी नए सेंटर द्वारा स्थानीय ट्रांसपोर्ट ठेकेदारों स्टाफिंग वैंडरों, सुरक्षा एजेंसियों, कंज्यूमेबल सप्लायर्स तथा राज्य भर में प्रशासनिक एवं हाउसकीपिंग एजेंसियों की सेवाएं लेने पर रोजगार के 500 से ज्यादा प्रत्यक्ष तथा हजारों परोक्ष अवसर भी सामने आएंगे।
इस नए फुलफिलमेंट सेंटर के उद्घाटन अवसर पर श्री सतीश महाना, उद्योग मंत्री, उत्तर प्रदेश सरकार ने कहा, उत्तर प्रदेश की औद्योगिक नीति काफी गतिशील है जो कंपनियों को राज्य में तेजी से बढ़ रहे व्यावसायिक माहौल का पूरा लाभ उठाने में मददगार है। हम राज्य के लाखों लोगों के लिए रोजगार के अवसर पैदा करने के साथ-साथ यहां ई-कॉमर्स को बढ़ावा देने और देशव्यापी बाजार को सुगम बनाने के फ्लिपकार्ट के प्रयासों की सराहना करते हैं। इस सेंटर का खुलना उत्तर प्रदेश की व्यावसायिक क्षमताओं और इसकी सरकार द्वारा इसे देश के सबसे तेजी से विकास करने वाले राज्यों में से एक बनाने के प्रयासों का सबूत है।
वर्चुअल उद्घाटन समारोह की अध्यक्षता आलोक टंडन, आईएएस, इंफ्रास्ट्रक्चर एंड इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट कमिश्नर, उत्तर प्रदेश सरकार ने की।
रजनीश कुमार, एसवीपी एवं चीफ कॉर्पोरेट अफेयर्स ऑफिसर्स, फ्लिपकार्ट ग्रुप ने कहा, ई-कॉमर्स अपने इंफ्रास्ट्रकचर को बड़े पैमाने पर विस्तार देने के बाद देश में आर्थिक गतिविधियों को हवा देने वाले सबसे मजबूत पक्षों में से एक बनकर उभरा है। फ्लिपकार्ट ने ई-कॉमर्स के विकास तथा इसे रोजगार सृजन का आधार बनाने के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर को और ज्यादा शक्तिशाली बनाने की दिशा में अनेक स्तरों पर निवेश किए हैं। उत्तर प्रदेश में हमारे पास लगभग 190 सुविधाएं हैं और हम ग्रॉसरी के लिए यहां अपने पहले फुलफिलमेंट सेंटर का उद्घाटन करते हुए बेहद खुशी महसूस कर रहे हैं। इससे हमें किसानों की आमदनी को बढ़ावा देने, स्थानीय कृषि तंत्र पर अधिक निवेश करने के साथ-साथ हजारों छोटे किसानों और एफपीओ को औपचारिक रिटेल तंत्र से जोड़ने का मौका मिलेगा। हम अपने परिचालनों में विस्तार के मद्देनजर राज्य सरकार से मिल रहे सहयोग के भी आभारी हैं और हम आगे भी ग्राहकों की जरूरतों को जिम्मेदारी की भावना के साथ पूरा करने तथा राज्य की अर्थव्यावस्था में योगदान करना जारी रखेंगे।
फ्लिपकार्ट ग्रॉसरी ग्राहकों के घरों तक सुरक्षित तरीके से ग्रॉसरी की डिलीवरी के लिए प्रतिबद्ध है और अब देश के ज्यादा से ज्यादा शहरों में विस्तार कर रहा है। फिलहाल, फ्लिपकार्ट ग्रॉसरी सेवाएं राज्य के प्रमुख शहरों जैसे कि आगरा, अलीगढ़, मेरठ और मथुरा में उपलब्ध हैं। फुलफिलमेंट सेंटर के लॉन्च के साथ, फ्लिपकार्ट ग्रॉसरी अब लखनऊ तथा आसपास के शहरों जैसे कानपुर एवं इलाहाबाद तक भी ग्राहकों को सुलभ होगी।


मनीष कुमार सीनियर वाइस प्रेसीडेंट, ग्रॉसरी जनरल मर्चेंडाइज एंड फर्नीचर फ्लिपकार्ट ने कहा, देशभर में क्वालिटी फूड प्रोडक्ट्स की बढ़ती मांग के चलते ग्रॉसरी सबसे तेजी से बढ़ने वाली श्रेणियों में से एक है कोविड19 महामारी के मद्देनजर खरीदारी के सुविधाजनक और सुरक्षित विकल्पों की मांग पहले से ज्यादा बढ़ी है और ऐसे में ग्राहक भी ऑनलाइन माध्यमों से ग्रॉसरी खरीद को पसंद कर रहे हैं। इसे ध्यान में रखकर और उत्तर प्रदेश में ई-कॉमर्स सेवाओं की बढ़ती मांग को देखते हुए, हमने राज्य में अपना पहला फुलफिलमेंट सेंटर खोला है। देश के सबसे बड़े राज्यों में से एक उत्तर प्रदेश ई-कॉमर्स की मांग बढ़ाने में उत्प्रेरक के रूप में भी महत्वंपूर्ण है और हमें उम्मीद है कि राज्यभर में ग्रॉहक ई-कॉर्म्स सेवाओं को तेजी से अपनाएंगे तथा यहां मांग में काफी बढ़ोतरी दर्ज होगी।
इस नए फुलफिलमेंट सेंटर से राज्य् में पहली बार ई-कॉमर्स का प्रयोग करने वाले यूजर्स के अलावा अन्य ग्राहकों की ई-ग्रॉसरी जरूरतें पूरी करने की फ्लिपकार्ट की क्षमताओं में वद्धि होगी। कंपनी के ग्रॉसरी परिचालनों से स्थानीय फूड प्रोसेसिंग इंडस्ट्री् को भी बल मिलेगा और लाखों उत्पादकों को लाखों उपभोक्ताओं से जोड़ा जा सकेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.