reporters
आई2क्योर बायोशील्ड ™️ को जामियात उलामा-ए-हिंद हलाला ट्रस्ट का हलाला सर्टिफिकेशन मिला

आई2क्योर बायोशील्ड ™️ को जामियात उलामा-ए-हिंद हलाला ट्रस्ट का हलाला सर्टिफिकेशन मिला

आई2क्यूर अल्कोहल रहित लोशन समाज के हर वर्ग के लिए

लखनऊ।

कोविड-19 से उच्च स्तरीय मोलेक्युलर आयोडीन सुरक्षा देने वाले आई2क्योर बायोशील्ड एंटीसेप्टिक लोशन को हाल में निरीक्षण और आकलन के बाद जमियात उलामा-ऐ-हिंद हलाला ट्रस्ट ने हलाला सर्टिफिकेशन प्रदान कर दिया है। ट्रस्ट ने आई2क्योर एंटीसेप्टिक लोशन को हलाला की शर्तों पर खरा बताया है।
कोविड-19 महामारी से पूरी दुनिया और खास कर मुस्लिम समुदाय अधिक प्रभावित है जो अल्कोहल आधारित सैनिटाइजर का उपयोग नहीं करता है। कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों के मद्देनजर इस समुदाय को सुरक्षा प्रदान करना अत्यावश्यक था जिसके लिए अल्कोहल आधारित उत्पाद का उपयोग वर्जित है। हलाला सर्टिफिकेशन प्राप्त करने के बाद आई2क्योर का मुस्लिम समुदाय को पूरा लाभ मिलेगा और इस समुदाय में जानलेवा वायरस फैलने से रोकने में मदद करेगा।
इस बारे में ग्लोबल चेयरमैन, भारत अनिल केजरीवाल ने कहा, “आई2क्योर स्वास्थ्य की देखभाल और सुरक्षा में नई पीढ़ी का इनोवेशन है और हम अब इसे
विश्व बाजार में ले जा रहे हैं और लोगों को इस प्रोडक्ट की ताकत दिखा रहे हैं। अल्कोहल रहित यह लोशन समाज के सभी तबकों और वर्गों के लोगों के काम आएगा। हम पूरे भारत के मस्जिद समेत पूजा स्थानों, विभिन्न ट्रस्ट के शैक्षिक और सामाजिक संस्थानों के संपर्क में हैं और जल्द ही महत्वपूर्ण करार करने वाले हैं। हम यथासंभव अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचने का लक्ष्य रखते हैं और न केवल कोविड -19 बल्कि विभिन्न बैक्टीरिया और वायरस से भी दुनिया की रक्षा करना चाहते हैं।”

आई2क्योर एक सीई रजिस्टर्ड, एफडीए नियम पालक, आईएसओ 9001ः 2015 और डब्ल्यूएचओ जीएमपी प्रमाणित उत्पाद है। विभिन्न अध्ययनों और अनुसंधानों में उपयोग के 2 सेकेंड के अंदर आई2क्योर ने सार्स संबंधी कोरोनावायरस के खिलाफ वायरस मारक क्षमता का प्रदर्शन किया है। यह अमेरिकी पर्यावरण संरक्षण एजेंसी की श्रेष्ठ प्रयोगशाला परीक्षण में देखा गया। एफडीए ने भी इसे परीक्षण रिपोर्ट में 6 घंटे की अवधि तक निरंतर माइक्रोब मारने में सक्षम होने का प्रमाण दिया।

आई2क्योर अल्कोहल रहित और हलाला प्रमाणित सैनिटाइजर है जो 12-घंटे तक वायरस, बैक्टीरिया और फंगस के खतरों से संपूर्ण सुरक्षा प्रदान करता है। डॉ. जैक केसलर ने आणविक आयोडीन को स्टैबलाइज किया है जो स्वास्थ्य समुदाय के अनुसार कोरोनवायरस के खिलाफ असरदार पोविडोन आयोडीन से लगभग 70 गुना अधिक प्रभावी है। आई2क्योर त्वचा में समाता है और वायरस के खिलाफ सुरक्षा कवच बनाता है। यह केवल एंटीसेप्टिक लोशन नहीं बल्कि सभी बैक्टीरिया, फंगस, वायरस के संक्रमण, टीबी, टीनिया और सभी प्रकार के त्वचा रोगों के खिलाफ भी असरदार है। इसका ग्लिसरीन तत्व त्वचा को पोषण भी देता है जबकि अल्कोहल-आधारित सैनिटाइजर त्वचा में सूखापन पैदा करते हैं।

आई2क्योर हलाला प्रमाणित और कोरोनावायरस पर 99.9 प्रतिशत प्रभावी होने के नाते पूरी दुनिया और सभी समुदायों के अधिक से अधिक लोगों तक पहंुचने का लक्ष्य रखता है ताकि कोरोनवायरस को रोका और लोगों को सुरक्षित रखा जा सके।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.