reporters
दबंगई पर उतारू हुआ चीनी मिल हरगांव का प्रबंध तंत्र, चीनी मिल के उच्च स्तरीय निर्देश पर सुरक्षा अधिकारी ने टायर दुकानदार को दी धमकी ।

दबंगई पर उतारू हुआ चीनी मिल हरगांव का प्रबंध तंत्र, चीनी मिल के उच्च स्तरीय निर्देश पर सुरक्षा अधिकारी ने टायर दुकानदार को दी धमकी ।


सीतापुर-अनूप पांडेय, राकेश पाण्डेय/NOI-उत्तरप्रदेश जनपद सीतापुर के हरगाँव थाना क्षेत्र के अन्तर्गत बिड़ला ग्रुप की स्थित चीनी मिल अवध सूगर एंड एनर्जी लि. पूरी तरीके से दबंगई पर उतारू होकर चीनी मिल के समक्ष लगभग 40 वर्ष टायर पंचर की दुकान खोल कर रोजी रोटी कमा रहे दुकानदार को चीनी मिल प्रबंध तंत्र के निर्देश पर मुख्य सुरक्षा अधिकारी ने असलहा दिखाते हुए सड़क के किनारे वर्षों से टायर की दुकान चलाने वाले दुकानदार को धमकी दी कि दुकान हटाकर जगह खाली करो, वरना तुम्हारी खैर नहीं ।
चीनी मिल की दबंगई से प्रताड़ित होकर पीड़ित ने इसकी तहरीर थाना हरगाँव सहित यूपी के मुख्यमंत्री तक पहुँचायी है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार हरगाँव थाना क्षेत्र के अन्तर्गत हरगाँव कस्बे में अवध शुगर एण्ड एनर्जी प्रा. लि. के चीनी मिल के ठीक सामने सरकारी जगह पर लगभग 40 वर्षों से मंसूर खाँ पुत्र मकसूद खाँ निवासी बगिया बाजार नगर पंचायत हरगाँव अपनी टायर की दुकान करते चले आ रहे हैं ।
मंगलवार को चीनी मिल हरगाॅव के अधिशाषी उपाध्यक्ष शूरवीर सिंह, व एक अन्य जिम्मेदार अधिशाषी उपाध्यक्ष के साथ मुख्य सुरक्षा अधिकारी जे.पी.श्रीवास्तव ने मंसूर की दुकान पर पहुंचकर मंसूर के लड़के मकबूल को गाली देकर धमकाते हुए कहा, कि यह दुकान हटाकर जगह खाली कर दो वरना तुम्हें उठाकर फेंक दिया जायेगा।
मकबूल ने बताया कि अधिशाषी उपाध्यक्ष शूरवीर सिंह के इशारे पर मुख्य सुरक्षा अधिकारी जे. पी. श्रीवास्तव ने असलहा दिखाकर उसे जान से मारने की धमकी दी । पीडित मंसूर खाँ ने थाना हरगाॅव के प्रभारी निरीक्षक को एक लिखित तहरीर देकर उसकी प्रतिलिपि उ.प्र.के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ को भी प्रेषित ‌कर अवगत कराते हुए मकबूल खाँ ने सीधा आरोप मिल प्रशासन पर लगाकर अपनी जान की सुरक्षा की गुहार शासन व प्रशासन से की है।
पीड़ित मंसूर की दुकान हरगाँव लखीमपुर हाइवे के पूरब ट्राली यार्ड के गेट के पास वर्षों से है। चीनी मिल प्रबंध तंत्र के इशारे पर मिली धमकी के बाद टायर की दुकान चलाने वाले मंसूर खां पुत्र मकसूद खां इस सोच में पड़े हुए हैं, यदि दुकान चीनी मिल प्रबंध तंत्र के द्वारा जबरन बंद करा दी जाती है तो वह अपने बच्चों का भरण पोषण कैसे करेंगे। चीनी प्रबंध तंत्र से मिली धमकी के बाद दुकानदार काफी परेशान नजर आ रहा है। और वह शासन प्रशासन से न्याय पाने की आस में आंखें गड़ाए हुए है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.