reporters
पिसावां”सेरवाडीह हत्याकांड का पुलिस ने किया खुलासा ।

पिसावां”सेरवाडीह हत्याकांड का पुलिस ने किया खुलासा ।


सीतापुर-अनूप पांडेय,अरुण शर्मा/NOI-उत्तरप्रदेश जनपद सीतापुर के पिसावां थाना क्षेत्र के सेरवाडीह गांव के बाहर बीते बुधवार को रामकोट थाना क्षेत्र के ढलिया गांव निवासी एक युवक का शव मिलने के मामले में पुलिस ने सक्रियता दिखाते हुए 36 घंटे के अंदर घटना का खुलासा कर दिया।पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर आला कत्ल बरामद कर सम्बंधित धाराओं के तहत जेल भेज दिया।
बीते बुधवार को थाना क्षेत्र के सेरवाडीह गांव के बाहर रामकोट थाना क्षेत्र के ढलिया गांव निवासी रामनरेश पान्डेय (45) पुत्र रामप्रसाद पांडेय का शव संदिग्धवास्था में पड़ा मिला था।मामले को लेकर मौके पर पहुंचे पुलिस अधीक्षक आर पी सिंह ने शीघ्र घटना का अनावरण किए जाने का मातहतों को निर्देश दिए थे।घटना के खुलासे को लेकर पांच टीमों का गठन किया गया।पुलिस ने घटना को लेकर कड़ी से कड़ी जोड़ते हुए गन्ना सेंटर के चौकीदार रामसागर पुत्र मगरे को गिरफ्तार कर लिया।घटना में प्रयुक्त आला कत्ल भी आरोपी की निशानदेही पर पुलिस ने बरामद कर लिया है।पुलिस ने आरोपी को सम्बंधित धाराओं के तहत जेल भेजने की कार्रवाई की है।

इनसेट।पैसों के लेन देन को लेकर की गई हत्या

सूत्र बताते हैं कि रामनरेश कई सालों से सेरवाडीह गांव में रह रहा था।उसके परिवार नही था।वह क्षेत्र में ही मजदूरी कर अपना भरण पोषण किया करता था।महोली थाना क्षेत्र के देवरिया गांव निवासी रामसागर पुत्र मगरे सेरवाडीह गन्ना सेंटर पर स्थाई चौकीदारी का कार्य करता था।लेकिन उसने अपने एवज में रामनरेश को देहाड़ी मजदूरी के तौर पर रात्रि चौकीदारी के लिए लगा रखा था।सूत्रों की माने तो रामनरेश का कुछ पैसों का हिसाब व लेन देन था।जिसको लेकर आरोपी ने बताया कि उसी बात पर लड़ाई झगड़े के दौरान आरोपी ने रामनरेश की डन्डे से सर पर कई प्रहार कर हत्या कर दी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.