reporters
प्रधानों के खेल निराले ग्राम विकास अधिकारी का ऑफिस ही फूंक डाला

प्रधानों के खेल निराले ग्राम विकास अधिकारी का ऑफिस ही फूंक डाला

सीतापुर-अनूप पाण्डेय,कृष्ण मोहन मिश्रा/NOI-यूपी के सीतापुर में विकासखंड सकरन ब्लॉक में आखरी कार्यकाल के दिन ही क्यों लगी आग
सकरन सीतापुर साण्डा कस्बा स्थित ब्लाक सकरन में शार्ट सर्किट से आग लग गई। ऑफिस बंद होने से किसी को आग लगने की जानकारी नहीं हो सकी, जिसके बाद आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। आग की लपटें उठती देख स्थानीय लोगों ने घटना की सूचना ब्लाक के समस्त अधिकारियों को दी, उसके बाद ग्रामीणों में काफी मेहनत के बावजूद आग को काबू में पाया गुरुवार देर शाम शार्ट सर्किट से आग लग गई। देखते ही देखते आग ने विकराल रूप धारण कर पंचायत सचिव के आवास में लगी आग जलकर राख हुए अभिलेख

•आग लगने से 7 ग्राम पंचायतों के अभिलेख और आवास में रखा सामान जला|
सकरन ब्लाक कार्यालय परिसर में स्थित आवास संख्या २ जिसमें पंचायत सचिव अशोक यादव का कार्यालय है| यहां बीती रात करीब 7:00 बजे जब आवास में ताला लगा हुआ था अचानक आग लगने से आवास में रखें 7 ग्राम पंचायत जिनमें बारहसिंघा, पचदेवरा, झोऊआखुर्द, दौदापुर, टेडवा कला, क्योटना हरदो पट्टी, सरैया कला, के रखे हुए महतवपूर्ण अभिलेख और लैपटॉप, प्रिंटर, इनवर्टर, अलमारी आदि के साथ अन्य जरूरी सामान जलकर राख हो गया है| मौके पर पहुंची सांडा चौकी पुलिस के साथ चौकीदार विनोद कुमार, और मनरेगा की कंप्यूटर ऑपरेटरों, ने किसी तरह से आग बुझाई|
पंचायत सचिव अशोक यादव ने बताया कि अज्ञात कारणों से लगी आग से कार्यालय में रखे तमाम महत्वपूर्ण अभिलेख और अन्य जरूरी चीजें जल गई है| घटना को लेकर बिसवां कोतवाली में तहरीर दी गई है| वही खण्ड विकास अधिकारी संदीप कुमार ने कहा जानकारी मिली है जांच कर कार्यवाही की जाएगी दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी ग्राम पंचायत सचिव
अशोक कुमार यादव उन्होंने बताया कि मैं 5:00 बजे के बाद अपना ऑफिस बंद करके घर चले गए थे उसके बाद जानकारी मिली कि हमारे ऑफिस में आग लग गई है मौके पर पहुंचकर देखा तो आग ने विकराल रूप ले लिया था जिससे सारे दस्तावेज जलकर खाक हो गए


ग्रामीणो का आरोप है कि
ब्लॉक सकरन के अंदर आए समस्त ग्राम पंचायत के ग्रामीणों ने आरोप लगाया है कि 5 साल के कार्यकाल में किए गए घोटालों के दस्तावेज जलकर राख हुए जिसमें जांच का विषय बना हुआ है ग्रामीणों ने बताया के कहीं इसमें पंचायत सेक्रेट्री व ग्राम प्रधानों की मिलीभगत से तो यह आग लगाई गई ग्रामीण
राजाराम, सर्वेश, अमरेन्द्र ,राजेश कुमार ,राम नेवल ,
नवलकिशोर चौहानआदि।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *