reporters
पुलवामा शहीदों की याद में रक्तदान शिविर का आयोजन

पुलवामा शहीदों की याद में रक्तदान शिविर का आयोजन

इंसानियत वेलफ़ेयर सोसाइटी ने
इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया ऐशबाग में लगाया विशाल रक्तदान शिविर

शिविर में मशहूर इंटरनेशनल शायर जनाब सूफियान प्रतापगढ़ी, नज्में हसन प्रतापगढ़ी व अकमल बलरामपुरी ने अपनी शायरी से लोगो का जीता दिल

बड़ी संख्या में विभिन्न धर्मों के लोगो ने किया रक्तदान

लखनऊ। पुलवामा शहीदों की याद में इंसानियत वेलफेयर सोसाइटी ने कई सहयोगी संस्थाओं के साथ मिलकर विशाल रक्तदान शिविर का आयोजन इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया ऐशबाग में किया। गंभीर बीमारी से पीड़ित गरीब,असहाय और लाचार जरूरतमंदों की मदद के लिए
विशाल रक्तदान शिविर में बड़ी संख्या में लोगो ने पहुँचकर रक्तदान किया।इस आयोजन के मुख्य अतिथि मौलाना खालिद रशीद फिरंगी महली साहब थे।मौलाना साहब ने इंसानियत वेलफेयर सोसाइटी की सराहना की कोरोना महामारी के दृष्टिगत कार्यक्रम में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ-साथ मास्क और सैनिटाइजर का प्रयोग भी किया गया।इस रक्तदान शिविर में लगभग 95 लोगो ने रक्तदान किया।
टीम इंसानियत ब्लड डोनेशन के इस रक्तदान शिविर में विशेष रूप से आये मशहूर इंटरनेशनल शायर जनाब सूफियान प्रतापगढ़ी,नज्में हसन प्रतापगढ़ी साहब तथा अकमल बलरामपुरी ने अपनी देश भक्ति की शायरी से लोगो का मन मोह लिया।


इस मौके पर इंसानियत वेलफेयर सोसाइटी के अध्यछ कुदरत उल्ला खान ने बताया कि मानवता के लिए हमारी संस्था सदैव तत्पर है।
रक्तदान सबसे बड़ा दान है ।असहाय मजबूर लोगों के लिए रक्त की अक्सर जरूरत पड़ती है उनको मदद के लिए इस तरह के रक्तदान शिविर का आयोजन होते रहना बहुत जरूरी है।उन्होंने कहा कि जाति- धर्म के बंधनों से ऊपर उठकर समाज के विभिन्न वर्गों के लोग आगे आए और मानव सेवा के हमारे इस मिशन को आगे बढ़ाएं।क़ुदरत उल्ला ने बताया कि टीम इंसानियत को बढ़ाने में सैयद आरिफ, मोहम्मद इमरान,फैज़ान कुरैशी,अब्दुल वहीद,हाफिज सलमान,ज़ुबैर,मोहम्मद सलमान,यूसुफ,अखलाक,नोमान,अफ़ज़ल आदि का सहयोग निरंतर मिल रहा है।

इस कार्यक्रम में प्रमुख रूप से राहुल सिंह, सोमैया भट,रीता सिंह,असीम मार्सल,आबिद कुरैसी (वाहिद बिरयानी) मोहम्मद अली साहिल,सऊद खान (प्रसपा) आदि उपस्थित रहे।
इस मौके पर वरिष्ट पत्रकार अब्दुल वहीद ने मानव सेवा के इस महान कार्य की सराहना की और बताया कि हमारे कई पत्रकार साथी भी विभिन्न अवसरों पर रक्तदान करके कई लोगों की जान बचा चुके हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *