reporters

उत्तर प्रदेश की आधी से ज्यादा आबादी हायपरटेंशन का शिकार


माधवबाग संस्थान का हृदय रोग मुक्त उत्तर प्रदेश अभियान का शुभारम्भ
लखनऊ। उत्तर प्रदेश की 54.5 प्रतिशत आबादी हायपरटेंशन की शिकार है। यहां हर साल एक लाख बायपास सर्जरी और लगभग 2.75 लाख एंजियोप्लास्टी होती है। अव्यवस्थित दिनचर्या, खानपान आदि से हृदय रोग, शुगर और ब्लड प्रेशर के मरीजो में तेजी से वृद्धि हो रही है, जो कि चिंताजनक है। इस स्थिति से उत्तर प्रदेश को उबारने के लिए माधवबाग संस्थान और समर्थ नारी समर्थ भारत संस्थान का हृदयरोग मुक्त उत्तर प्रदेश अभियान शुरु किया जा रहा है। आरोग्यम हृदय संपदा नामक इस अभियान में माधवबाग के एक्सपर्ट साल भर में उत्तर प्रदेश के दो हजार से ज्यादा मरीजों हार्ट, ब्लड प्रेशर और शुगर जैसी बीमारियां आयुर्वेदा, पंचकर्म और जीवनशैली में बदलाव से रिवर्स करेंंगे। इस कार्यक्रम का शुभारंभ उर्दु एकेडमी गोमतीनगर में हुआ। कार्यक्रम की मुख्य अतिथि लखनऊ की महापौर श्रीमती संयुक्ता भाटिया, माधवबाग संस्थान के सीएसआर हेड मिलिंद सरदार, समर्थ नारी समर्थ भारत संस्थान की नशनल कोर्डिनेटर श्रीमती नीरा सिंहा , लखनऊ कोर्डिनेटर श्रीमती सपना श्रीवास्तव, माधवबाग के रीजनल हेड डॉ.आशीष पांडे आदि मौजूद थे। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए माधवबाग संस्थान के सीएसआर हेड मिलिंद सरदार ने बताया कि इतने बडे पैमानें पर बीमारीे होने के बाद भी इसे लेकर लोगों में जागृति नही है। जबकि इन बीमारियों पर पुरी तरह नियत्रंण पाया जा सकता है। माधवबाग इन बीमारियों के शोध आयुर्वेदिक उपचार के लिए प्रसिद्व है ।

संस्थान इन बीमारियों पर पिछले 15 साल से काम कर रहा है। और अब तक 10 लाख से अधिक लोगों को इन पद्वति द्वारा ठीक कर चुका है। इस अभियान में माधवबाग के एक्सपर्ट द्वारा इन बीमारियों पर प्रदेश भर में अवेयरनेस लेक्चर और सेमिनार का आयोजन किया जाएगा। इसके साथ ही प्रोग्राम में आने वाले लोगों की ब्लड प्रेशर, शुगर, हार्ट रेट, बीएमआई और ऑक्सीजन लेवल की जांच की जाएगी । जिन मरीजों में हार्टर्, शुगर और ब्लड प्रेशर के बीमारी के लक्षण पाए जाएंगे उनकी आयुर्वेदा की शोध आधारित रिवर्स ब्लाकेज ट्रीटमेंट और रिवर्स डायबिटिज ट्रीटमेंट से बीमारी रिवर्स की जाएगी। जिन लोगों में यह बीमारी नहीं होगी उन्हें इस स्थिति को बनाए रखने के लिए संतुलित आहार, व्यायाम और दिनचर्या में परिवर्तन के बारे में बताया जाएगा। श्री आशीष पांडे ने बताया की माधवबाग की मोबाईल एप एमआईबी पल्स भी लोगों के लिए उपलब्ध है । जिसमें वे इलाज के बारे में और अधिक जान सकेंगे। डॉ आषीष पांडे ने बताया कि लखनऊ में रिवर्स हार्ट ब्लॉकेज व रिवर्स डायबिटिज पर वर्कशॉप का आयोजन इसी सप्ताह किया जाएगा। जिसकी जानकारी जल्द ही उपलब्ध करायी जाएगी ं

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *