reporters
गौरैया दिवस की पूर्व संध्या पर पोस्टर का हुआ विमोचन

गौरैया दिवस की पूर्व संध्या पर पोस्टर का हुआ विमोचन

प्रकृति प्रेमी बेबी स्केच के संस्थापक दीपक सिंह का किया गया सम्मान लखनऊ। विश्व गौरैया दिवस की पूर्व संध्या पर शुक्रवार 19 मार्च को निराला नगर के ज्वाला प्रसाद भवन में जे.सी.फाउण्डेशन की ओर से पक्षियों के संरक्षण का संदेश देने वाला पोस्टर लांच किया गया। इस पोस्टर का विमोचन जे.सी.फाउण्डेशन के अध्यक्ष अशीष अग्रवाल और उपाध्यक्ष अभिषेक अग्रवाल ने किया। इस अवसर पर प्रकृति प्रेमी बेबी स्केच कला संस्था के संस्थापक चित्रकार दीपक सिंह का सम्मान भी किया गया। आशीष अग्रवाल ने बताया कि यह पोस्टर चित्रकार दीपक सिंह ने तैयार किया है। दीपक ने एक ओर जहां पक्षियों को पिंजड़ों की कैद से आजाद करवाया है वहीं चित्रकारी कर दूसरों को प्रकृति संरक्षण के लिए प्रेरित भी किया है। उन्होंने बताया कि गौरैया संरक्षण का संदेश देने वाला पोस्टर ज्वाला प्रसाद भवन में आने वाले लोगों को अब निरंतर प्रेरित करेगा। दीपक ने बताया कि “बेबी स्केच ऑफिशियल” नाम से वह फेसबुक पर उपलब्ध है।

अभिषेक अग्रवाल के अनुसार नासिक निवासी मो.दिलावर ने घरेलू गौरैया पक्षियों की सहायता के लिए नेचर फोरेवर सोसाइटी की स्थापना की थी। इनके इस कार्य को देखते हुए टाइम ने 2008 में इन्हें हिरोज ऑफ दी एनवायरमेंट नाम दिया था। विश्व गौरैया दिवस मनाने की योजना भी उन्हीं के प्रयासों का परिणाम है। अभिषेक ने कहा कि ऐसी मान्यता है कि जिस घर में गौरैया आती है वहां हमेशा खुशियों का बसेरा रहता है। वैज्ञानिकों के अनुसार भी गौरैया शहरों में बेतरतीब बढ़ते कीटों पर नियंत्रण रखने का अहम कार्य करती हैं। अत्यधिक कंक्रीट के जंगल और मोबाइल टॉवर के रेडियेशन के कारण गौरैयों की संख्या कम हो रही है। ऐसे में आवश्यकता है कि लोग प्रकृति संतुलन के प्रति जागरुक हों और पशु-पक्षियों के लिए दाना-पानी रख कर उन्हें संरक्षण प्रदान करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *