reporters
कोरोना महामारी के बीच<br>लोगो की जान बचाने में लगी है समाजसेवी रजिया नवाज

कोरोना महामारी के बीच
लोगो की जान बचाने में लगी है समाजसेवी रजिया नवाज

लखनऊ।कोरोना महामारी के इस दौर में जब पीड़ित जनता सरकारी संसाधनों की कमी से प्रभावित हो रही है।उस समय समाज के कुछ लोग अपनी नैतिक सामाजिक जिम्मेदारी का निर्वहन करते हुए अपनी जान की बाज़ी लगाकर लोगो की मदद के लिए आगे आए हैं।उन्हीं में से एक नाम है शहर की प्रसिद्ध समाजसेवी रजिया नवाज का।समाजसेवी रज़िया नवाज़ अपनी जान की बाज़ी लगाकर परेशानहाल लोगो की भरपूर मदद कर रही है।वर्तमान समय लखनऊ में हर तरफ त्राहि त्राहि का मंजर है।इस मंजर के बीच भी शहर के तमाम हिस्सों में समाजसेवी रजिया नवाज़ के द्वारा किसी को अस्पताल में भर्ती कराया जा रहा है तो किसी को ऑक्सीजन दिलाने में मदद की जा रही है,किसी को सही दिशा में इलाज़ करने के लिए सहयोग किया जा रहा है।इसी क्रम में
राज्य मुख्यालय से मान्यता प्राप्त पत्रकार अब्दुल वहीद की माता श्रीमती जमीला खातून जो कि अत्यंत गंभीर अवस्था मे थी और ऑक्सीजन सपोर्ट पर थी उनका सिलेंडर खत्म हो रहा था जिससे उनका जीवन खत्म हो जाता।इसकी जानकारी जैसे ही समाजसेवी रजिया नवाज को मिली तो उन्होंने तत्काल ऑक्सीजन सिलेंडर दिलवाकर उनकी जान बचाने का प्रयास किया।

इस मौके पर अब्दुल वहीद ने बताया कि इस मुश्किल घड़ी में मदद के लिए उन्होंने बहुत जगह प्रयास किया। लेकिन इस महामारी के समय समाजसेवी रजिया नमाज ने आगे आकर मेरी माँ की टूटती सांसो को बचाने की कोशिश की जो एक मानवता की मिसाल है। समाजसेवी रजिया नवाज अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन करते हुए शहर के तमाम बीमार,परेशानहाल लोगो की हर तरह से मदद की कोशिश कर रही हैं। समाजसेवी रजिया नवाज़ ने बताया कि इस गंभीर महामारी के समय लोगो को आगे आकर जरूरतमंदों की मदद करनी चाहिए।उल्लेखनीय है कि समाजसेवी श्रीमती रजिया नवाज समाज के विभिन्न वर्गों को उनकी जरूरत के मुताबिक यथासंभव मदद करने को हमेशा तैयार रहती हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *