reporters

ऑप्ट्रोमेट्रिस्ट को स्थानांतरण नीति से बाहर रखा जाए

  • राजकीय ऑप्ट्रोमेट्रिस्ट एसोसिएशन उप्र ने की मुख्यमंत्री से मांग

लखनऊ। राजकीय ऑप्ट्रोमेट्रिस्ट एसोसिएशन उप्र ने मुख्यमंत्री को एक पत्र भेजा है। इस पत्र के जरिए एसोसिएशन ने मांग की है कि प्रदेश भर में तैनात ऑप्ट्रोमेट्रिस्ट (नेत्र परीक्षण अधिकारी) को स्थानांतरण नीति से बाहर रखा जाए।

एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष सर्वेश पाटिल ने कहा कि कोविड महामारी में ऑप्ट्रोमेट्रिस्ट लगातार अपनी सेवाएं देते आ रहे हैं। कोरोना के साथ ही ब्लैक फंगस में ऑप्ट्रोमेट्रिस्ट अहम भूमिका निभा रहे हैं। जिस कारण कई ऑप्टोमेट्रिस्ट साथी कोविड-19 महामारी का शिकार होकर शहीद हो चुके हैं अस्पतालों में ओपीडी भी अब सामान्य रूप से शुरू हो चुकी हैं। इसलिए ऑप्ट्रोमेट्रिस्ट संवर्ग एवं स्वास्थ्य विभाग में कार्यरत लोगों को वर्ष 2020-21 की स्थानांतरण नीति से बाहर रखा जाए। जिससे आमजन को अस्पताल में कठिनाइयों का सामना न करना पड़े। बल्कि हो सके तो रिक्त पदों पर भर्ती एवं समायोजन पर विचार किया जाए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *