काबुल एयरपोर्ट के बाहर आत्मघाती हमले में 13 लोगों की मौत, 52 लोग घायल

 

काबुल। अफगानिस्तान में काबुल के हामिद करजई अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट के बाहर गुरुवार को एक के बाद हुए दो बम धमाकों में 13 लोगों से अधिक की मौत हो गई। मरने वालों में कई बच्चे भी शामिल हैं। वहीं 52 से अधिक लोग घायल हो गए है।

लेकिन अभी तक किसी संगठन ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। हालांकि यहां इस्लामिक स्टेट के हमले को लेकर अलर्ट जारी किया गया था। आतंकी हमलों को लेकर अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन ने भी आशंका जताते हुए लोगों को सचेत किया था। सच वहीं साबित हुआ है।

अल-जजीरा ने अब तक इन धमाकों में 13 लोगों की मौत की की सूचना दी है। वहीं तालिबान ने हमले में बच्चे सहित कम से कम 13 लोगों के मारे जाने की बात कहते हुए इसे संभावित आत्मघाती हमला बताया है।

समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक, हमले में महिलाओं, अमेरिकी सुरक्षा कर्मियों और तालिबान के गार्ड समेत कई लोग घायल हुए हैं। अमेरिकी सुरक्षा अधिकारियों ने इसे आत्मघाती हमला बताया है। खुफिया एजेंसियों ने हमले के लिए आइएसआइएस पर शक जताया है।

धमाके के बाद एयरपोर्ट पर अफरातरफी का माहौल है। तस्वीरों में लोगों को लहूलुहान और जान बचाकर भागते हुए देखा जा सकता है। पहला धमाका एयरपोर्ट के अब्बे गेट पर हुआ है। तो दूसरा धमाका बरून होटल के पास हुआ है। इस होटल में ब्रिटेन के सैनिक ठहरे हुए हैं। घायलों को अस्पताल पहुंचाया जा रहा है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fifteen − 7 =