FacebookNews Headlineखेल

धोनी की पसंद के आगे नहीं देख पाते सेलेक्टर, हरभजन को भूलेः सौरव गांगुली

12हरभजन सिंह को बार-बार नजरअंदाज किए जाने से हैरान टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने बीसीसीआई चयनकर्ताओं को आड़े हाथों लिया है. साथ ही इशारों में मौजूदा कप्तान महेंद्र सिंह धोनी पर भी हमला किया है.

सौरव गांगुली को हरभजन सिंह पर पूरा भरोसा है. उनका मानना है कि भज्जी वनडे और टेस्ट की राष्ट्रीय टीम में जरूर वापसी करेंगे. हरभजन सिंह को देश का सर्वश्रेष्ठ स्पिनर बताते हुए गांगुली ने धोनी की पसंद को ही टीम में चुनने के लिए चयनकर्ताओं की आलोचना की.

गांगुली ने कहा, ‘मेरा मानना है कि चयनकर्ता हरभजन सिंह के चयन के बारे में ज्यादा नहीं सोचते जब धोनी के करीबी खिलाड़ियों के सेलेक्शन पर चर्चा हो रही है.’

गौरतलब है कि हरभजन सिंह ने अपना आखिरी टेस्ट मैच मार्च 2013 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला था. वहीं पिछले रणजी सीजन में उन्होंने 6 मैच में 26.60 की औसत से 23 विकेट झटके.

सौरव गांगुली का यह बयान इसलिए भी अहम है कि हाल के दिनों आर अश्विन के खराब प्रदर्शन की वजह से उनके टीम में बने रहने पर सवाल उठे हैं. विदेशी धरती पर अश्विन टेस्ट के अलावा वनडे में भी कोई प्रभाव छोड़ने में नाकाम रहे. शायद खराब फॉर्म की वजह से ही उन्हें न्यूजीलैंड के खिलाफ एक भी टेस्ट में खेलने का मौका नहीं मिला. गौर करने वाली बात यह भी है कि अश्विन को धोनी का चहेता माना जाता है.

इसके अलावा गांगुली ने एशिया कप और टी 20 वर्ल्ड कप की टीम में लेग स्पिनर अमित मिश्रा के चयन पर भी सवाल उठाए. गांगुली कहते हैं कि मिश्रा हवा में धीमी गेंद फेंकते हैं इसलिए बल्लेबाजों के लिए उन्हें पढ़ पाना आसान होता है. अमित मिश्रा की फील्डिंग भी बेहद खराब है. गांगुली इस बात से भी हैरान है कि प्रज्ञान ओझा को क्यों नजरअंदाज किया जाता है.

News One India

News One India Admin

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button
Close
Close