​आज ही के दिन सहवाग से हुई थी ये बड़ी गलती, नहीं तो…

भारतीय टीम के पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग का खेलने का अंदाज ही उन्हें दूसरों से अलग करता था। टी-20, वनडे हो या टेस्ट मैच वह सभी फॉर्मेट में एक ही शैली में बल्लेबाजी करते थे।

वीरेंद्र सहवाग (फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)
भारतीय टीम के पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग का खेलने का अंदाज ही उन्हें दूसरों से अलग करता था। टी-20, वनडे हो या टेस्ट मैच वह सभी फॉर्मेट में एक ही शैली में बल्लेबाजी करते थे। इस समय भारत और श्रीलंका के बीच टेस्ट सीरीज चल रहा है। जहां सहवाग बतौर कमेंटेटर मैच का हाल दर्शकों तक पहुंचाने का काम कर रहे हैं। लेकिन आज ही के दिन सहवाग जब श्रीलंका के खिलाफ बल्लेबाजी कर रहे थे तो उनसे एक ऐसी भूल हो गई थी जो उन्हें आज भी विचलित कर देती होगी। जी हां, सहवाग दो तिहरे शतक लगाने वाले भारत के इकलौते बल्लेबाज हैं। सहवाग अगर उस मैच में श्रीलंका के खिलाफ 7 रन और बना लेते तो वह वर्ल्ड के पहले ऐसे बल्लेबाज बन जाते जिसने तीन बार तिहरा शतक जमाया हो। लेकिन अफसोस ऐसा हुआ नहीं। दरअसल, 2009 में जब श्रीलंकन टीम भारत दौरे पर आई थी तो सहवाग ने उस सीरीज के तीसरे टेस्ट मैच में श्रीलंकाई गेंदबाजों की जमकर धुनाई की थी। यह भी गौर करने वाली बात है कि उस वक्त श्रीलंका की टीम में मुथैया मुरलीधरन जैसे गेंदबाज थे। लेकिन इन सबसे बेखौफ सहवाग ने उस मैच में जो बल्लेबाजी की थी।

वीरेंद्र सहवाग (फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)
उस साल श्रीलंका की टीम 3 टेस्ट, 5 वनडे और 2 टी20 मैच खेलने भारत आई थी। पहला टेस्ट ड्रॉ रहा था। दूसरे टेस्ट मैच में वीरेंद्र सहवाग ने सिर्फ 122 गेंदों पर 131 रन जड़ डाले थे। यह मैच भारत ने पारी और 144 रनों से जीता था। इसके बाद तीसरा टेस्ट मैच मुंबई में खेला गया। इस मैच में मुरली विजय सहवाग के साथ ओपनिंग करने उतरे। पहली पारी विजय तो 87 रन बनाकर चलते बने, लेकिन सहवाग का तूफान जारी था। ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए सहवाग ने 40 चौकों और 7 गगनचुंबी छक्कों की मदद से सिर्फ 254 गेंदों में 293 रन ठोक डाले।

श्रीलंकाई गेंदबाज खासे खर्चीले साबित हुए। रंगना हेराथ ने 240, मुरलीधरन ने 195, कुलासेकरा ने 105 रन और वलेगेदरा ने 131 रन लुटाए। इस मैच में राहुल द्रविड़ ने 74, सचिन तेंडुलकर ने 53, वीवीएस लक्ष्मण ने 62 और महेंद्र सिंह धोनी ने 100 रन बनाए थे। भारत ने पहली पारी 726/9 पर घोषित कर दी और श्रीलंका को बल्लेबाजी के लिए बुलाया। पहाड़ जैसे स्कोर का पीछा करने उतरी श्रीलंका की टीम 393 रनों के स्कोर पर ऑल आउट हो गई

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.