नानपारा, बहराइच। नये साल की पूर्व संध्या पर कौमी एकता सोसाइटी नानपारा की एक बैठक मनोज तिवारी के आवास पर कायस्थ टोला नानपारा में हुई। जिसमें नगर के सम्भ्रान्त लोगो ने भाग लिया। बैठक में प्रदेष के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी से बिहार की तर्ज पर उत्तर प्रदेष में भी पूर्ण शराबबंदी एवं अन्य नषीली वस्तुओं पर प्रतिबंध लगाने की मांग की गई। 

बैठक को सम्बोधित करते हुए अध्यक्ष डाॅ0 शकील अंसारी ने कहा कि आबकारी विभाग से जितनी आय हो रही है उससे ज्यादा देष के नागरिक बीमार होकर मर रहे है प्रतिदिन करोड़ो रूपया सरकार कैंसर रोगियो पर खर्च कर रही है। एक ओर जहां देष के नागरिक बीमार होकर मर रहे है वही दूसरी ओर हजारों युवा नषे में आकर अपने परिवार को बर्बादी की ओर ले जा रहे है। राष्ट्रपति पुरूस्कार प्राप्त पूर्व प्राचार्य शंकर इण्टर कालेज जेपी गुप्ता ने कहा कि नषा उनमूलन होना चाहिए और समाज के प्रत्येक व्यक्ति की जिम्मेदारी है कि नषाबंदी की शुरूआत अपने घर से करें और धूम्रपान भी छोड़ दे। समाजसेवी सुरेष शाह एडवोकेट ने कहा कि देष और प्रदेष का हित तभी है जब लोगो में अच्छे संस्कार हो और नषील वस्तुओं पर प्रतिबंध लगे। केषव पाण्डेय ने कहा कि देष के बच्चों को अच्छी षिक्षा अच्छे संस्कार देने के लिए विद्यालयो में भी मानवता और संस्कार जैसे पाठ्यक्रम शुरू होना चाहिए। मनोज तिवारी ने कहा कि शराबबंदी से समाज का उत्थान होगा। मन्जूरूल हसन हाषमी ने कहा कि समाज को दूषित कर रहे हर बुरे काम पर रोक लगनी चाहिए। भ्रष्टाचार मुक्त भारत होना चाहिए। सै0 अब्दुल वली ने कहा कि बिहार सरकार ने नषाबंदी की जिससे बिहार खुषहाली की ओर बढ़ रहा है। उत्तर प्रदेष के मुख्यमंत्री जी प्रदेष में पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगावे जिससे उत्तर प्रदेष तरक्की की ओर अग्रसर हो। बैठक में जागरूकता अभियान चलाने का निर्णय लिया गया।

बैठक को अख्तर हुसैन जाफरी, श्याम लखन आर्या, शायर अनवर फरीदी, षिवनन्दन त्रिवेदी, विजय कुमार, नीरज शर्मा सभासद, नौषाद खां, इकबाल कादिर आदि लोगो ने सम्बोधित किया।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.