News One India
निष्पक्ष खबर

​सीतापुर”गांजर में खूब फल-फूल रहा है अवैध कच्ची शराब का कारोबार ! 

0

सीतापुर-अनूप पाण्डेय,अमरेंद्र पांडेय:NOI।
उत्तरप्रदेश जनपद सीतापुर के

थाना क्षेत्र रेउसा में इन दिनों अवैध कच्ची शराब का धन्धा खूब जोर पकड़ता नजर आ रहा है। 

बिकास खण्ड रेउसा के कमाऊ गांजरी थानों में फलीभूत हो रहा अबैध कच्ची शराब का कारोबार

रेउसा (सीतापुर)रेउसा विकास खण्ड के थाना थानगांव व रेउसा थाना क्षेत्रों मे इन दिनों कच्ची शराब का धंधा कुटीर उधोग का रूप लेता जा रहा है। विभागीय अधिकारी भले ही स्थानीय थानों के जिम्मेदारो को कच्ची शराब पर विराम लगाकर शिकंजा कसने के आदेश जारी कर रखा हो परंतु गांजरीय इलाके के कमाऊ रेउसा व थानगांव थानों के जिम्मेदार कच्ची शराब बनाने व बेचने के कारोबार को रोकने में अपने आप मे लाचार नजर आ रहे है।जिसके चलते थानगांव व रेउसा क्षेत्र मे कई गांव में कच्ची शराब खुलेआम बनाई व बेची जा रही है।कच्ची शराब बनाने व बेचने में महिलाओं से लेकर बुजुर्ग भी शामिल है।जिससे नव युवकों का जीवन काल के मुंह मे जा रहा है।रेउसा विकास क्षेत्र के कई गाँवों मे कच्ची शराब के धंधे ने लघु उद्योग का रूप धारण करता जा रहा है । जिससे सरकार को एक तो काफी राजस्व का नुकसान उठाना पड़ रहा है और दूसरे कच्ची शराब पीने वाले जब कभी जहरीली शराब पी लेते है तो शासन व प्रशासन को भी काफी जिल्लत उठानी पड़ती है।इन विभागीय अधिकारियों के आदेश के बाद भी विराम नही लग पा रहा है।अगर सूत्रों की माने तो स्थानीय थानों की आपसी सांठगांठ के चलते शराब बनाने का व्यवसाय अनवरत चलता रहता है ।कभी कभी उपरी दबाव के कारण पुलिस व आबकारी विभाग के अधिकारियों द्वारा कुछ चुनिंदा लोगो को ही पकड़ कर शराब बरामद कर रस्म अदायगी के तौर पर पकड़कर दिखा दी जाती है । सुत्रो के मुताबिक राजपुर क्योटाना, नन्दपुर ,थौरा पासिनपुरवा,नसीरपुर देवरिया ,सीपतपुर बड़हीनकुटी ,रन्डा, राजपुर,चकदहा, मुजेहना, बैजवारी,राजापुर कला,डेलियाभरथा,

करसा,लालपुर, गौलोक कोंड़र,अमलोरा,सेवता,खुरवालिया,भिठौली,चंद्रसेनी,बरा,चहलारी,अकसोहा,रंगवा,आदि करीब98ग्राम पंचायतों के लगभग सभी मजरों में कच्ची शराब बनाने का अबैध करोबार जमकर किया जारहा है।विशेष सूत्रों के मतानुसार उपरोक्त गांवो में अलसुबह से शाम को भट्ठियां चढ जाती है,जो कि अपने नियत समय तक धधकती रहती है।अड्डो पर पीने वालो का जमावड़ा लग रहता है।जिससे सूर्य डूबने के बाद गांव घर की बहू बेटिया शौच जाने व घर से निकलने को ड़रती रहती है।कच्ची शराब के व्यापार से बहू बेटियो की इज्जत का खतरा बना रहता है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.