देहरादून : आयुक्त गढवाल दिलीप जावलकर की अध्यक्षता में, ई.सी रोड स्थित आयुक्त कैम्प कार्यालय में ‘लैण्ड फ्राड समन्वय समिति’ की बैठक आयोजित की गयी।
बैठक में आयुक्त गढवाल ने सरकारी एवं वन विभाग की भूमि पर फर्जी/धोखाधड़ी से कब्जा, अतिक्रमण, आवंटन, विक्रय, खुर्द बुर्द करने आदि प्रकरणों पर अधिकारियों को निर्देश दिये। उन्होने जिलाधिकारी देहरादून को निर्देश दिये कि भूमि से सम्बन्धित विभिन्न लम्बित प्रकरणों हेतु अपर जिलाधिकारी की अध्यक्षता में कमेटी गठित करते हुए जांच आख्या जिलाधिकारी कार्यालय के माध्यम से प्रेषित करने के निर्देश दिये। उन्होने जिलाधिकारी देहरादून को मौजा जोहड़ी गांव परगना केन्द्रीय दे.दून स्थित ग्राम समाज की भूमि पर अवैध कब्जे के सम्बन्ध में तहसील के राजस्व अभिलेख में छेड़छाड़ करने के मामलों में एसआईटी में अज्ञात के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज करने तथा अधीनस्थ कामिकों को सरकारी भूमि के अतिक्रमण रोकने के हरसम्भव प्रयास करने के साथ ही न्यायालयों में लम्बित मामलों की ठीक से पैरवी करते रहने और लगातार मामलों की मानिटिरिंग करने के निर्देश दिये।

उन्होने त्यूनी में 26 बीघा सरकारी जमीन एक ही व्यक्ति के नाम दर्ज होने और अन्य व्यक्तियों द्वारा मुआवजे की मांग करने की जांच करते हुए आख्या शीघ्रता से प्रेषित करने के निर्देश दिये। उन्होने निर्देश दिये कि जहां प्रत्यक्ष रूप से सरकारी भूमि पर कब्जा अथवा अतिक्रमण दिखता है ऐसे मामलों में तत्काल बेदखली की कार्यवाही करें साथ ही सम्बन्धित के विरूद्ध कार्यवाही करें। उन्होने एमडीडीए, वन विभाग, नगर निगम और राजस्व विभाग सभी को हर हाल में सरकारी जमीनों पर हो रहे अतिक्रमण/कब्जे रोकने के निर्देश दिये। बैठक में पुलिस उप महानिरीक्षक गढवाल पुष्पक ज्योति, जिलाधिकारी एस.ए मुरूगेशन, अपर आयुक्त गढवाल हरक सिंह रावत, प्रभागीय वनाधिकारी देहरादून, सचिव एमडीडीए पीसी दुम्का सहित सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित थे।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.