नई दिल्ली सूत्र : पीएम मोदी की अबू धाबी यात्रा पर भारत ने कच्चे तेल उत्पादन को लेकर सऊदी के साथ बड़ी भागीदारी की है। बता दें कि भारतीय तेल कंपनियों ने सऊदी की तेल कंपनी एडनॉक के साथ 60 करोड़ डॉलर (करीब 3855 करोड़ रुपये) में यह डील की है। इस भागीदारी के तहत इन कंपनियों को लॉअर जकुम फील्ड में 10 फीसदी की हिस्सेदारी दी गई है। इस हिस्सेदारी से न सिर्फ देश की बढ़ती ऊर्जा की मांग को पूरा किया जाएगा, बल्क‍ि यह आम आदमी के लिए भी फायदेमंद साबित हो सकती है। दरअसल सरकार संचालित ओएनजीसी की सब्स‍िड‍ियरी ओएनजीसी विदेश, इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन और भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन की सब्स‍िड‍ियरी भारत पेट्रोरिसोर्सेज ने यह डील की है। इस डील के तहत इन कंपनियों ने 60 करोड़ डॉलर (करीब 3855 करोड़ रुपये) अदा कर एडनॉक के अबु धाबी स्थ‍ित ऑयल फील्ड में 10 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी है। यह पहली बार है, जब भारतीय कंपनियों ने सऊदी की धरती पर इतनी बड़ी डील की है। पिछले दिनों कच्चे तेल की कीमतों में लगातार बढ़ोतरी आने की वजह से भारत में पेट्रोल और डीजल की कीमतों पर असर साफ दिख रहा था। यही वजह है कि देश में पेट्रोल की कीमतें 80 रुपये के पार पहुंची हैं। डीजल भी इस बार 67 के पार पहुंच गया है। इस डील से भारतीय कंपनियों को क्रूड ऑयल डिमांड को आसानी से पूरा करने में मदद मिलेगी। यह डील आने वाले समय में पेट्रोल और डीजल की कीमतों पर भी नियंत्रण पाने में मदद कर सकती है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.